गोपालगंज : शहर के मोहल्लों में बनी नालियों ने काफी हद तक जलनिकासी की समस्या को दूर कर दिया है। अब नगर परिषद अंडर ग्राउंड ड्रेनेज सिस्टम की योजना पर काम कर रहा है। इस योजना के तहत शहर के बंजारी तथा हजियापुर खांड में अंडर ग्राउंड ड्रेनेज बनाए जाएंगे। इस ड्रेनेज के ऊपर सड़क बनाई जाएगी। नदी से जुड़े खांड में अंडरग्राउड ड्रेनेज से मुख्य नाला से पानी की निकासी होगी। इससे मुख्य नाला से पानी निकासी में हो रही समस्या दूर हो जाएगी।

गोपालगंज शहर में कभी जलजलाव की विकट समस्या थी। बारिश होने पर शहर के अधिकांश इलाके जलजमाव की चपेट में आ जाते थे। सात साल पूर्व शहर को जलजमाव की समस्या से मुक्ति दिलाने की दिशा में नगर परिषद ने ध्यान देना शुरू किया। शहर के सभी 28 वार्ड में नालियां बनाने का काम शुरू किया गया। अब शहर के सभी मोहल्ले में नालियां बन गई हैं। इन नालियों से गली मोहल्ला के पानी की निकासी हो रही है। नालियों का पानी मुख्य नाला तक पहुंच रहा है। मुख्य नाला से पानी निकासी की समस्या अभी बनी हुई है। इससे जोरदार बारिश होने पर शहर के कई इलाके जलजमाव की चपेट में आ जाते हैं। इसे देखते हुए नगर परिषद ने अंडर ग्राउंड ड्रेनेज सिस्टम बनाने की योजना बनाई है। इस योजना के तहत शहर के हजियापुर से अरार होते वीएम फील्ड के पास छाड़ी नदी तक जाने वाले खांड में अंडर ग्राउंड ड्रेनेज बनाया जाएगा। इसके साथ ही बंजारी से कॉलेज रोड के समीप छाड़ी नदी तक जाने वाले खांड में भी अंडर ग्राउंड नाला बनाया जाएगा। इसके बाद उसके ऊपर सड़क बनाई जाएगी। नदी से जुड़े खांड में अंडरग्राउड ड्रेनेज से होकर मुख्य नाला के पानी की निकासी होगी। जिससे मुख्य नाला से पानी की निकासी को लेकर हो रही समस्या दूर हो जाएगी।

कहते हैं नप चेयरमैन

शहर के सभी वार्ड में नालियां बना दी गई हैं। बारिश होने के एक घंटे के अंदर अब पानी की निकासी हो जाती है। अब मुख्य नाला से पानी की निकासी के लिए खांड में अंडरग्राउंड ड्रेनेज बनाने की योजना पर काम किया जा रहा है।

हरेंद्र कुमार चौधरी, चेयरमैन, नगर परिषद, गोपालगंज