संवाद सूत्र, कुचायकोट(गोपालगंज) : गोपालपुर थाना क्षेत्र के विक्रमापुर गांव में छापेमारी कर पुलिस ने बाइक चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है। इस क्रम में चोरी की एक बाइक के साथ गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने विभिन्न थाना क्षेत्र के छापेमारी कर इस गिरोह के एक और सदस्य को गिरफ्तार करते हुए चोरी की दो और बाइक बरामद कर ली। गिरफ्तार आरोपितों में विक्रमापुर गांव के मनताज आलम, राहुल कुमार ¨सह एवं बालोपुर गांव का इसरुद्दीन मियां शामिल है।

गिरफ्तार किए किए गए बाइक चोर गिरोह के सदस्यों का नेटवर्क सिवान सहित सीमावर्ती उत्तर प्रदेश तक फैला हुआ है। ये बाइक चुराकर उसे यूपी तथा दूसरे जिले में बेचते थे। गिरफ्तार किए गए आरोपितों से पुलिस पूछताछ कर रही है। इस बीच पुलिस अधीक्षक राशिद जमा ने अंतर प्रांतीय बाइक चोर गिरोह का भंडाफोड़ के लिए छापेमारी दल में शामिल पुलिस कर्मियों को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

बताया जाता है कि गोपालपुर थाना के थानाध्यक्ष अमृतेश कुमार ¨सह को सूचना मिली कि विक्रमापुर गांव में चोरी की एक बाइक से दो युवक घूम रहे हैं। इस सूचना पर पुलिस बल के साथ विक्रमापुर गांव में छापेमारी कर चोरी की एक बाइक जब्त करते हुए इसी गांव के निवासी मनताज आलम तथा राहुल कुमार ¨सह को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए युवकों से पूछताछ करने पर वे अंतर प्रांतीय वाहन चोर गिरोह के सदस्य निकले। इनकी निशानदेही पर पुलिस ने विक्रमापुर गांव में ही छापेमारी कर पुलिस ने चोरी की एक और बाइक बरामद की। यहां छापेमारी करने के बाद पुलिस ने फुलवरिया थाना क्षेत्र के बालोपुर गांव में छापेमारी कर चोरी की एक अन्य बाइक के साथ इस गांव के निवासी इसरुद्दीन मियां को गिरफ्तार कर लिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि इस गिरोह का नेटवर्क सिवान, छपरा से लेकर उत्तर प्रदेश तक फैला है। इस गिरोह के अन्य सदस्यों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी अभियान चला रही है। वहीं पुलिस अधीक्षक राशिद जमा ने बताया कि वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ करने वाले छापेमारी दल में शामिल पुलिस कर्मियों को पुरस्कृत किया जाएगा।

Posted By: Jagran