संवाद सूत्र, कटेया(गोपालगंज) : अब सरकारी विद्यालयों के पोषक क्षेत्र में कोई भी बच्चा स्कूली शिक्षा से वंचित नहीं रहेगा। आठ मार्च से 20 मार्च तक चलने वाले प्रवेशोत्सव अभियान में अपने-अपने पोषक क्षेत्र में घर-घर जाकर शिक्षक अनामांकित बच्चों का सर्वेक्षण कर उनका विद्यालय में नामांकन कराएंगे। यह अभियान पूरा होने के बाद विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को इस बात का प्रमाण पत्र देना होगा कि उनके विद्यालय के पोषक क्षेत्र में एक भी बच्चा नामांकन से वंचित नहीं रह गया है। इस अभियान के तहत सर्वेक्षण से लेकर बच्चों के नामांकन तक के लिए शिक्षा विभाग ने शिड्यूल जारी कर दिया है। इसी सिलसिले में गुरुवार को कटेया प्रखंड परिसर स्थित प्रखंड संसाधन केंद्र के सभागार में प्रखंड के सभी प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों के प्रधानाध्यापक तथा संकुल समन्वयकों की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में आठ मार्च से 20 मार्च तक विशेष नामांकन अभियान को लेकर प्रवेशोत्सव कार्यक्रम के लिए तिथि वार जारी शिड्यूल की जानकारी से प्रधानाध्यापकों को अवगत कराया गया। बीआरसीसी संतोष प्रसाद तिवारी ने बताया कि प्रखंड क्षेत्र के विद्यालयों के पोषक क्षेत्रों में अनामांकित 6 से 14 आयु वर्ग के बच्चों का गृह वार सर्वेक्षण व पहचान कर उन्हें उम्र सापेक्ष कक्षा में 10 मार्च से लेकर 15 मार्च के बीच नामांकन किया जाएगा। इस दौरान विद्यालय परिसर को आकर्षक ढंग से सजाने तथा तोरण द्वार बनाने का निर्देश दिया गया है । कार्यक्रम के तहत विद्यालय के पोषक क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, विद्यालय शिक्षा समिति के सदस्य, शिक्षक, जीविका दीदी, टोला सेवक, तालिमी मरकज स्वयंसेवक तथा आंगनबाड़ी सेविका का सहयोग संबंधित विद्यालय के प्रधानाध्यापक लेकर सभी अनामांकित बच्चों का नामांकन कराना सुनिश्चित करेंगे । बैठक में डीआरसीसी भूपेश कुमार, संकुल समन्वयक दिनेश मिश्र, जयश्री राय, अरुण तिवारी, कमलेश रजक, प्रधानाध्यापक राजेश मिश्र, महेश त्रिपाठी, वीरेन वीरेंद्र गुप्ता सहित सभी प्रधानाध्यापक व संकुल समन्वयक मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप