संवाद सूत्र,थावे(गोपालगंज) : इंदरवा एबदुल्लाह पंचायत के तत्कालीन पंचायत सचिव त्रिलोकीनाथ ¨सह 22 लाख रुपये की निकासी के मामले में कानून के शिकंजे में फंस गए हैं। अपने पंचायत में योजनाओं की राशि खुद अपने नाम तथा दूसरी किश्त दूसरे व्यक्ति के नाम पर निकासी कराने के मामले में बीडीओ सुमन कुमार ने पंचायत सचिव पर प्राथमिकी दर्ज कराने की अनुशंसा की है।

बताया जाता है कि इंदरवा एबदुल्लाह पंचायत के वार्ड एक, दो तथा आठ में योजनाओं के लिए भेजी गई 22 लाख 62 हजार 215 रुपये की निकासी पंचायत सचिव ने खुद तथा दूसरे किश्त के अग्रिम भुगतान किसी अन्य व्यक्ति के नाम से करा लिया। यह मामला उजागर होने पर बीडीओ ने पंचायत सचिव से स्पष्टीकरण मांगा तो संतोष जनक जवाब प्रस्तुत नहीं किया गया। इसके साथ ही आदेश देने के बाद भी पंचायत सचिव त्रिलोकीनाथ ¨सह ने पूर्ण प्रभार नहीं सौंपा। मांगे गए स्पष्टीकरण के जवाब में पंचायत सचिव ने प्रभारी प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी से उनसे आपसी रंजिश साधने के लिए बीडीओ थावे पर तथ्यहीन प्रतिवेदन भेजने का आरोप लगाया। बीडीओ सुमन कुमार ने बताया कि इंदरवा एबदुल्लाह में कुल आठ योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए 22 लाख 62 हजार 215 रुपये की निकासी पंचायत स्तर से की गई। ग्राम पंचायत के खाता से 29 मई और चार जुलाई 2017 के बीच सुभाष ¨सह तथा पंचायत सचिव त्रिलोकीनाथ ¨सह के नाम से राशि निकासी की गई है। इसके साथ ही इन आठ योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए बीपीएमजे से अनुमोदन भी प्राप्त नहीं किया गया। बीडीओ ने बताया कि मुखिया और तत्कालीन पंचायत सचिव त्रिलोकीनाथ ¨सह के विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई करने की स्वीकृति जिला पदाधिकारी ने दे दी है। इनके विरुद्ध प्रपत्र क गठित की जा रही है। उन्होंने बताया की तत्कालीन पंचायत सचिव त्रिलोकी नाथ ¨सह और मुखिया पर प्राथमिकी दर्ज करने की कारवाई चल रही है।

Posted By: Jagran