भभुआ (कैमूर), जागरण संवाददाता। रविवार की भोर से ही लगातार हो रही झमाझम बारिश से भभुआ नगर पानी-पानी हो गया। नगर के सभी वार्डों के अलावा मुख्य सड़कों पर जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गई। बारिश होने के चलते लोग घरों से बाहर नहीं निकल सके। बाजार में दुकानें भी कम खुली। वहीं बारिश होने से जिले में मौसम भी सुहाना हो गया है। उधर बारिश होने के बाद नगर परिषद भभुआ के जल निकासी व्यवस्था की पोल खुल गई। भभुआ नगर के वार्डों व मुख्य सड़कों पर जलजमाव के चलते दुकानों में भी पानी प्रवेश कर गया।

डूब गया धान का बिचड़ा 

बारिश के चलते ग्रामीण क्षेत्रों में भी जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गई। खेतों में पानी लग गया। धान का बिचड़ा पानी से डूब गए। धान का बिचड़ा पानी में डूबने से किसान काफी चिंतित दिखे। बारिश के दौरान ही कई किसान हाथ में फावड़ा लेकर खेतों की ओर चल पड़े और खेत में जमा पानी को निकालने का प्रयास करने लगे। लेकिन लगातार हो रही बारिश से उनका प्रयास असफल हो रहा था।

लॉकडाउन के दौरान निष्क्रिय बनी रही नगर परिषद 

बता दें कि कोरोना के चलते किए गए लॉकडाउन में ही नगर के लोग मुख्य सड़क के किनारे बने नाला व वार्डों की नालियों की सफाई की मांग कर रहे थे। लेकिन नगर परिषद निष्क्रिय बनी रही। बारिश शुरू हुई तो नगर परिषद को नाला सफाई की याद आई। बीते शनिवार को जेसीबी मशीन से कुछ जगहों पर नाला की सफाई कराई गई। लेकिन लगातार हो रही बारिश से नाला से पानी नहीं निकल पा रहा है। इसके चलते वार्डों की नालियों से भी पानी मुख्य नाला में नहीं पहुंच पा रहा। जिससे मुख्य सड़क से लेकर वार्ड की गलियों तक हल्की बारिश होने के बाद ही जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो जा रही है। इससे नगर के लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं मौसम का मिजाज देख लोगों ने यह आशंका व्यक्त की कि यह बारिश अभी एक-दो दिन इसी तरह होती रहेगी।

Edited By: Vyas Chandra