जागरण संवाददाता, सासाराम। त्योहार व पर्व को देखते हुए जिले में भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर कोविड टीकाकरण 24 घंटे सत्र संचालित किया जाएगा। 24 घंटे टीकाकरण सत्र संचालित करने का निर्णय आगामी नवंबर माह में पर्व त्योहार के कारण राज्य के बाहर से आने वाले लोगों के मद्दनेजर लिया गया है। कोविड संक्रमण के प्रसार को ध्यान में रखते हुए रेलवे स्टेशन, बस अड्डा एवं अन्य भीड़ वाली जगहों पर कोविड टीकाकरण के लिए विशेष टीकाकरण सत्र का आयोजित करने का निर्देश राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह ने डीएम व सीएस को दिया है।

कार्यपालक निदेशक ने कहा है कि आगामी नवंबर माह में काफी संख्या में दूसरे राज्यों से लोगों के आने की संभावना है। ऐसी स्थिति में बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन समेत अन्य भीड़-भाड़ स्थानों पर 24 घंटे टीकाकरण कार्य करना आवश्यक है। इन स्थलों पर पर्याप्त मात्रा में एइएफआइ किट की उपलब्धता सुनिश्चित करते हुए एक चिकित्सक की भी उपस्थिति अनिवार्य रूप से किया जाए। साथ ही सत्र स्थल आयोजन के बारे में जनमानस को अवगत कराने के लिए व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए। सिविल सर्जन  ने कहा कि विभागीय निर्देश के आलोक में 24 घंटे सत्र स्थल संचालित करने की दिशा में कवायद शुरू कर दी गई है।

टीकाकरण सत्र स्थलों पर सा$फ-सफाई की व्यवस्था के साथ लाभार्थियों के अन्य सुविधाओं का भी ध्यान रखा जाएगा। लाभार्थियों के लिए पीने के पानी, बैठने की व्यवस्था, सत्र स्थल पर साबुन आदि की पूर्ण व्यवस्था भी सुनिश्चित किया जाएगी। टीकाकरण के दौरान वैक्सीन का बर्बादी न हो इस पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। भीड़-भाड़ की संभावना को देखते हुए टीकाकरण स्थल पर पर्याप्त मात्रा में सुरक्षा बलों की तैनाती भी की जाएगी। गौरतलब है कि दुर्गा पूजा को लेकर सभी जिलों के डीएम ने समिति संचालकों के साथ बैठक की, जिसमें उन्‍होंने पंडालों में पूरी तरह कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करने का आदेश दिया है। ऐसा नहीं करने वाली समितियों पर कार्रवाई होगी।

Edited By: Prashant Kumar