संवाद सहयोगी, नवादा : कोविड टीकाकरण के शत-प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करने के लिए प्रशासनिक कवायदें जारी हैं। इसी कड़ी में जिलाधिकारी यश पाल मीणा ने शनिवार को अपने कार्यालय में आइएमए के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। डीएम ने बताया कि अब तक जिले में 64.3 प्रतिशत लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। इस माह के अंत तक 75 प्रतिशत करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसमें जिले के सभी निजी डॉक्टरों का भी अपेक्षित सहयोग आवश्यक है।

गर्भवती महिलाओं एवं दूध पिलाने वाली महिलाओं को भी टीका लगा सकते

जिलाधिकारी ने कोविड-19 के टीकाकरण के लक्ष्य को शत-प्रतिशत पूर्ण करने के लिए डॉक्टरों को कई आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पिछले दस दिनों में 6 प्रतिशत टीकाकरण में वृद्धि हुई है। अगले दस दिनों के अंदर 75 प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करना है। इसके लिए प्रतिदिन न्यूनतम दस हजार लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। आइएमए के सचिव डॉ. शंबुक ने कहा कि जो मरीज टीकाकरण कराकर क्लीनिक में इलाज कराने आएंगे, उन्हें फी में 50 रुपये की छूट दी जाएगी। इसके व्यापक प्रचार-प्रसार करने के लिए फ्लैक्स और अन्य माध्यमों का सहारा लिया जाएगा। डॉ. शंबुक ने कहा कि गर्भवती महिलाओं एवं दूध पिलाने वाली महिलाओं को भी टीका लगा सकते हैं, इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है। 

टीकाकरण कराने वाले मरीजों को सभी डाक्टरों द्वारा 50-50 रुपये की छूट

बैठक में उपस्थित डॉक्टरों ने आश्वस्त करते हुए बताया कि जिले में भी डॉक्टरों का फी 200 से 400 रुपये है। टीकाकरण कराने वाले मरीजों को सभी डाक्टरों द्वारा 50-50 रुपये की छूट मरीजों को प्रदान किया जाएगा। जो मरीज टीकाकरण करा कर आएंगे, उनको इलाज में भी प्राथमिकता दी जाएगी। जिलाधिकारी ने सदर एसडीएम को जिले के सभी प्रसिद्ध धर्म गुरुओं के साथ बैठक करने का निर्देश दिया। इसके अलावा नेहरू युवा केंद्र, एनसीसी को भी व्यापक प्रचार प्रसार करने के कार्यों में लगाने कहा। 

जिले के धर्मगुरू भी आम जनों से करेंगे अपील

जिले के धर्मगुरुओं द्वारा सभी आम जनों को अपील किया जाएगा कि टीकाकरण कराएं और कोविड-19 से स्थाई मुक्ति पाएं। इससे आप सुरक्षित रहेंगे तो आपका परिवार और समाज भी सुरक्षित होगा। यदि एक भी व्यक्ति का नहीं लगाते हैं तो इसे उस व्यक्ति के अलावा उनके परिवार और समाज को खतरा बना रहेगा। जिले के सभी प्रखंड और पंचायतों में प्रतिदिन 250 से अधिक टीका केंद्रों पर टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। इसमें जिले के सभी विभागों का समन्वय और नियंत्रण  बेहतर ढंग से किया जा रहा है। बैठक में सदर एसडीएम उमेश कुमार भारती, डीपीआरओ सत्येंद्र प्रसाद, आइएमए के सचिव डॉ. शंबुक, डॉ. मनोज वर्णवाल, डॉ. निकेश नंदन, डॉ. बी भरत, डॉ. कुणाल, डॉ. पुष्कर चंद्रा आदि उपस्थित रहे। 

Edited By: Prashant Kumar Pandey