जागरण संवाददाता, गया:

सूबे में व्याप्त भ्रष्टाचार, शिक्षा, स्वास्थ्य और कानून व्यवस्था की दयनीय स्थिति के विरोध में बुधवार को महागठबंधन एवं वाम मोर्चा एकजुट होकर समाहरणालय के पास धरना-प्रदर्शन करेगा। शहर में आक्रोश मार्च भी निकाला जाएगा। मंगलवार को बैठक कर कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए रणनीति बनाई गई। इसमें रालोसपा नेता विनय कुशवाहा ने कहा कि रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि बिहार में कमाई, दवाई, पढ़ाई, सुनवाई, करवाई आदि की व्यवस्था जबतक सुनिश्चित नहीं होती है, तबतक बिहार का भला नहीं हो सकता है। इस हल्ला बोल के माध्यम से बिहार के मुख्यमंत्री से इस्तीफा मांगा जाएगा। मौके पर रालोसपा के जिलाध्यक्ष राजीव प्रकाश उर्फ बंटी कुशवाहा, युवा रालोसपा के जिलाध्यक्ष डीके डाडेल, सीपीआई नेता सत्येंद्र कुमार सुमन मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप