जागरण संवाददाता, गया । राज व्यापी आंदोलन के तहत जन अधिकार पार्टी के के नेताओं ने सोमवार को गया जंक्शन पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया गया। जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर 4 से खुलने वाली गया पटना मेमू पैसेंजर ट्रेन के इंजन के पास दर्जनों कार्यकर्ताओं ने झंडा बैनर लेकर प्रदर्शन किया केंद्र सरकार की कृषि संबंधी नीतियों का विरोध किया । पार्टी की ओर से पांच सूत्री मांगों को लेकर रेल रोको कार्यक्रम के माध्यम से सरकार को घेरने का काम किया। इस अवसर पर प्रदेश प्रवक्ता राजीव कुमार कन्हैया ने कहा कि बिहार और देश में जन विरोधी सरकार का राज है। पार्टी की ओर से लगातार किसान एमएसपी कानून को लागू करने की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही है। नीतीश कुमार से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा की मांग करते थे। आज राज्य और देश में डबल इंजन की सरकार है। क्यों नहीं बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाता है। यह स्पष्ट होता है कि  राजनीतिक दलों का चुनावी मुद्दा बनकर रह गया है।  

कन्हैया ने कहा कि पूरे बिहार प्रदेश में विधि व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो गई है। अपराध बढ़े हैं।  चुनाव में जीते हुए जनप्रतिनिधियों को गोलियों का शिकार बनाया जा रहा है। सरेआम हत्याएं हो रही है। सरकार सुशासन की ढोल पीट रहा है। इन तमाम मांगों को लेकर बिहार के जन- जन के नेता पूर्व सांसद पप्पू यादव के नेतृत्व में पूरे बिहार में रेल रोको अभियान किया गया। नेताओं ने कहा कि अगर सरकार ने हमारी मांगों को नहीं मानती है तो इस आंदोलन को देश और राज्य में तेज किया जाएगा।

इस अवसर पर जाप के जिलाध्यक्ष विनोद कुमार मरांडी, युवा जिला अध्यक्ष ओम यादव, फतेहपुर के जिला परिषद प्रेम यादव, उपाध्यक्ष मुकेश नारायण, मनोज कुमार, जाप के किसान प्रकोष्ठ के महामंत्री सतीश वर्मा, मनोज कुमार, निरंजन कुमार, धीरज कुमार, संजय शर्मा, कृष्णा जाधव, सुरेंद्र यादव, गौतम कुमार सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था को लेकर आरपीएफ इंस्पेक्टर अजय प्रकाश और रेल थानाध्यक्ष संतोष कुमार, आरपीएफ सब इंस्पेक्टर विक्रम देव सिंह, सब इंस्पेक्टर पूनम कुमारी समेत आरपीएफ जीआरपी के दर्जनों पुलिस पदाधिकारी व जवान मौजूद थे।

Edited By: Rahul Kumar