गया । प्रखंड के वरोरह पंचायत में संचालित जन वितरण प्रणाली की सभी छह दुकानों का लाइसेंस राशन और केरोसिन की कालाबाजारी के कारण रद्द कर दिया गया है। हाल ही में रद्द हुए वरोरह पैक्स के जन वितरण प्रणाली की दुकान की अनुज्ञप्ति के बाद अब यहा के लोगों को राशन और केरोसिन के लिए पंचायत से बाहर की दुकानों में जाना पड़ेगा।

वरोरह पंचायत के जन वितरण प्रणाली के दुकानदार कामेश्वर रविदास का लाइसेंस वर्ष 2017 में, रविंद्र प्रसाद, परमानंद प्रसाद, संजय कुमार मिश्र व रूप नारायण सिंह का लाइसेंस 25 अगस्त 2018 को व वरोरह पैक्स को प्रदत्त जन वितरण प्रणाली के दुकान की अनुज्ञप्ति 11 अक्टूबर को टिकारी की अनुमंडल अधिकारी द्वारा रद्द कर दी गई है।

विभिन्न समय पर गठित जाच दल ने उक्त सभी जन वितरण प्रणाली के दुकानदारों के द्वारा राशन और केरोसिन की कालाबाजारी कर देने की बात अपनी-अपनी जाच रिपोर्ट में वरीय अधिकारियों को दी गई थी। जिसके आधार पर सभी दुकानों का लाइसेंस बारी.बारी से रद्द कर दिया गया।

विगत दो वर्ष के अंदर प्रखंड के एक पंचायत के सभी जन वितरण प्रणाली के दुकानदारों का लाइसेंस रद्द हो जाने के बाद भी उक्त दुकानों पर निगरानी रखने के लिए तैनात किसी भी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी के विरुद्ध अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। जिस कारण अधिकारियों के साथ पर जन वितरण प्रणाली के राशन और केरोसिन की कालाबाजारी का कारोबार यहा धड़ल्ले से जारी है।

टिकारी के अनुमंडल अधिकारी मनोज कुमार ने बताया है कि वरोरह पैक्स का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है। अब इस पंचायत में कोई भी जन वितरण प्रणाली का दुकान संचालित नहीं है। उन्होंने यह भी कहा है कि संबंधित आपूर्ति पदाधिकारियों से स्पष्टीकरण की माग की गई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप