संवाद सहयोगी, नवादा। शारदीय नवरात्र की महाष्टमी पर बुधवार को देवी मंदिरों और पूजा पंडालों में पूजा-अर्चना के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। सुबह से ही शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों में पूजा करने के लिए भीड़ लगी रही। कई लोगों ने व्रत धारण कर परिवार, समाज के सुख-समृद्धि की कामना की। श्रद्धालुओं ने मां दुर्गा के आठवें स्वरुप महागौरी की पूजा की। श्रद्धालु माता की भक्ति में सराबोर दिखे। अलसुबह से ही श्रद्धालुओं ने स्नान कर माता की भक्तिपूर्वक पूजा की।

महिलाओं ने पूजा पंडाल पहुंचकर मां दुर्गा की प्रतिमा के समक्ष फल-फूल, नैवेद्य, वस्त्र आदि चढ़ाकर पुरानी परंपरा के अनुसार गोद भरा। साथ ही पूजा-अर्चना कर अपने पूरे परिवार की मंगल कामना की। पूजन को लेकर नगर के इंदिरा चौक, अस्पताल रोड, रामनगर, प्रसाद बिगहा, शहीद भगत ङ्क्षसह चौक, स्टेशन रोड, मिर्जापुर, पार नवादा समेत, न्यू एरिया, उमानाथ मंदिर, राम नगर, तीन नंबर बस पड़ाव समेत अन्य स्थानों पर पूजा पंडालों में देर शाम तक श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। वहीं लोग अपने परिवार व बच्चों के साथ बारी-बारी से पूजा पंडालो में जाकर मां की प्रतिमा के समक्ष माथा टेक कर आशीर्वाद ले रहे हैं। पूजा पंडालो में मां दुर्गा के बीज मंत्र 'रूपं देहि जयं देहि यशो देहि' का जाप कर रहे हैं।

पंडालों के पास लगी रही कतार

माता की प्रतिमा के समक्ष पंडालों में काफी भीड़ लगी रही। लिहाजा भीड़ को नियंत्रित ढंग से पूजा की व्यवस्था की गई। पूजा पंडालों व मंदिरों में भक्तों की कतार लगी रही। बारी-बारी से महिलाओं ने माता की प्रतिमा के समक्ष गोद भराई की। बता दें कि मंगलवार की देर शाम से देर रात तक पूजा पंडालों का प्रतिमाओं के पट आम लोगों के दर्शन के लिए खोल दिया गया। माता की एक झलक पाने को श्रद्धालुओं का तांता लग गया। फिर बुधवार की सुबह से ही श्रद्धालु महिलाएं माता की गोद भराई के लिए पूजा पंडालों में पहुंचने लगीं।

प्रतिमाओं का दर्शन करने को निकले लोग

बुधवार की शाम से पूजा पंडालों में माता का मनोहारी रूप का दर्शन करने को तांता लग गया। श्रद्धालु अपने परिवार व मित्रों के साथ पंडालों की ओर निकले। बता दें कि कोविड गाइड लाइन को देखते हुए इसबार भी बड़े और भव्य मूर्ति और पंडाल नहीं बनाए गए हैं, फिर भी लोगों की आस्था पर कोई असर नहीं देखा जा रहा है।

सुरक्षा को लेकर प्रशासन व पुलिस चौकस

शहर में दुर्गा पूजा को लेकर जुटने वाली भीड़-भाड़ को देखते हुए विधि व्यवस्था संधारण के लिए जगह-जगह पुलिस बल व दंडाधिकारी की तैनाती की गई है। सड़कों पर पुलिस के अधिकारी व जवान घूमते दिखे। अपराधी चरित्र के लोगों पर शिकंजा कसने के लिए पुलिस तैयार है। साथ ही पंडाल के पास भीड़-भाड़ नहीं लगे, इस पर भी ध्यान दिया जा रहा है।

Edited By: Prashant Kumar