इमामगंज (गया), जागरण संवाददाता। गया जिले के इमामगंज प्रखण्ड में मछली पकड़ने के दौरान आहर डूबने से अलग-अलग गांवों में दो लोगों की मौत हो गयी। इस सम्बंध में थानाध्यक्ष नईयर एजाज अहमद ने बताया कि बिश्रामपुर गांव के गोल्डेन कुमार उम्र 20 वर्ष पिता विमल सिंह रविवार को सुबह गांव के बगल में रामसागर आहर में मछली मारने गया था। उसी दौरान आहर में डूबने से उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गयी। वहीं दूसरी घटना परसिया गांव की है। जहां गांव के ही नागेश्वर मांझी उम्र 55 वर्ष वह शौच करने के बाद मछली पकड़ने के लिए भुईयां आहर में उतरा जिसमें अधिक पानी होने के कारण डूबकर मौत हो गयी।

गोताखोरों ने निकाला शव

थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों शवों को स्थानीय गोताखोरों व नागरिकों के सहयोग से आहर से बाहर निकाला गया और दोनों शवों को पोस्मार्टम के लिए मगध मेडिकल कालेज गया भेज दिया गया। इधर मल्हारी पंचायत के बिश्रामपुर गांव निवासी पूर्व मुखिया राजीव रंजन सिंह, उर्फ बिटू सिंह व मुखिया प्रतिभा सिंह ने बताया कि गोल्डेन कुमार काफी गरीब परिवार से आता था। वह आटो चलाकर पूरे परिवार का भरण पोषण कुछ सालों से कर रहा था।

 कमाऊ सदस्य की मौत हो जाने के बाद पूरा परिवार टूट गया। ग्रामीण बतातें हैं कि गोल्डेन कुमार जब से आटो चलाकर कमाने लगा था। उसी समय से उसके माता पिता को उसकी शादी करने की तैयारी चल रही थी। लेकिन उसकी असमय मौत हो जाने से उसके वृद्ध माता पिता का सपना अधूरा रह गया और उनका जीवन नरकमय बन गया है। दोनों को रोरोकर बुरा हाल है। वहीं नागेश्वर मांझी भी घर का कमाऊ सदस्य था। उसके भी मौत होने से घर में कोहराम मच गया और पत्नी व बच्चों को रो-रोकर बुरा हाल है।

Edited By: Rahul Kumar