चैनपुर (कैमूर), संवाद सूत्र। चैनपुर विधानसभा के विधायक सह बिहार सरकार (Bihar Government) के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री (Minister of Minorities welfare) मो जमां खां (Md Jama Khan) एक बड़े हादसे का शिकार होने से बच गए। वे जंगल की आग (Forest Fire) में फंस गए थे। स्थिति ऐसी हो गई कि मंत्री, सुरक्षाकर्मी और कार्यकर्ताओं ने घने जंगल में घुसकर अपनी जान बचाई। इससे काफी देर तक अफरातफरी की स्थिति बनी रही। करीब चार घंटे तक मंत्री, सुरक्षाकर्मी और कार्यकर्ता जंगल में फंसे रहे। मंत्री ने कहा कि यह ऊपरवाले की कृपा थी कि आज वे जीवित हैं।

तेरहवीं में शामिल होने जा रहे थे मंत्री

बुधवार की सुबह 11 बजे के करीब चैनपुर विधानसभा क्षेत्र के अधौरा प्रखंड अंतर्गत ग्राम लोहरा में किसी व्यक्ति के यहां तेरहवीं में शामिल होने के लिए मंत्री जमां खां जा रहे थे। इस दौरान तेलहाड़ कुंड के कुछ आगे बढ़ने पर जंगल में लगी आग ने अचानक भयावह रूप धारण कर लिया। आग मुख्य सड़क तक फैलने लगी। अचानक इस स्थिति को देखने के बाद अफरातफरी हो गई। मंत्री की गाड़ी सहित एस्कॉर्ट में लगी गाड़ियां किसी तरह पीछे भागने का प्रयास करने लगी। लेकिन इस दौरान पीछे से भी आग उतनी ही भयावहता से मुख्य सड़क तक आने लगी। घबराहट में मंत्री, सुरक्षाकर्मी एवं कार्यकर्ताओं ने किसी तरह सड़क से गाड़ी को मैदान में उतार दिया। इस दौरान तेज हवा के झोंके की वजह से लपटें काफी भयावह हो गई थीं।

आगे और पीछे दोनों ओर भयावह थी आग की लपटें

इस संबंध में मंत्री मो जमां खां ने कहा कि बड़े बुजुर्गों का आशीर्वाद एवं इनकी मां का आशीर्वाद है जो सही सलामत हैं। अन्यथा आज की जो स्थिति थी उसमें बचना नामुमकिन था। सभी लोग सुरक्षित हैं यह ऊपर वाले की मेहरबानी है। उन्‍होंने बताया कि दिन के 11 बजे के करीब तेलहाड़ कुंड के आगे जैसे ही बढ़े जंगल में लगी आग तेज हवा चलने के कारण भयावह रूप पकड़ ली। मुख्य सड़क पर आग की लपटें आ रही थी। तेज हवा चलने के कारण आग की लपटें लगभग 20 से 25 फीट ऊपर तक जा रही थी। अचानक आग में घिरने के कारण सभी लोग घबरा गए। पीछे लोग भागने का प्रयास किए मगर उस दौरान पीछे से भी काफी आगे की लपटें आ रही थी। इसके बाद गाड़ी को वहीं छोड़कर सुरक्षा कर्मी, कार्यकर्ता एवं एक महिला कार्यकर्ता को लेकर मंत्री बीच जंगल में घुस गए। करीब चार घंटे तक वे लोग आग के बीच फंसे रहे। इसके बाद हवा का रुख बदलने से आग की लपटों की तपिश कम हुई।

फायर ब्रिगेड ने बुझाई आग

तत्काल फायर बिग्रेड एवं स्थानीय थाने को सूचना दी गई। सूचना पर तत्काल मौके पर पहुंची अग्निशमन विभाग के दमकल से आग पर काबू पाने का प्रयास किया गया। मुख्य सड़क के आसपास के इलाके में लगी आग को बुझाने का कार्य शुरू कर दिया गया। जब ये लोग जंगल से बाहर निकले तब अधौरा पुलिस पहुंची।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप