गया, जागरण संवाददाता। कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर बंद रहे वाराणसी-राजगीर बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस  का परिचालन दोबारा से शुरू हो रहा है। 22 जुलाई से यह ट्रेन अपने पूर्व निर्धारित रूटों पर दौडेंगी। पिछले साल के मार्च माह से यह ट्रेन बंद थी। अब करीब 15 महीने बाद गुरुवार से परिचालन शुरू किया जा रहा है। रेल यात्रियों की सुविधा को देखते हुए गया होकर गुजरने वाली वाराणसी-राजगीर बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस ट्रेन को चलाने का निर्णय लिया गया है। अब रेल यात्रियों को गया जंक्शन से सीधे राजगीर जाना एक्सप्रेस ट्रेन से आसान हो गया है। इस स्पेशल ट्रेन का परिचालन अगली सूचना तक जारी रहेगा। रेल यात्रियों को यात्रा के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन अनविार्य रूप से करना होगा।

इस समय पर चलेगी ट्रेन

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि वाराणसी-राजगीर-वाराणसी बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस स्पेशल से 04223 राजगीर-वाराणसी स्पेशल ट्रेन 23 जुलाई से अगली सूचना तक राजगीर से प्रतिदिन 23.35 बजे खुलकर अगले दिन 08.45 बजे वाराणसी पहुंचेगी। वापसी में 04224 वाराणसी-राजगीर स्पेशल ट्रेन 22 जुलाई से अगली सूचना तक वाराणसी से प्रतिदिन 20.30 बजे खुलकर अगले दिन 06.05 बजे राजगीर पहुंचेगी। अप एवं डाउन दिशा में यह स्पेशल ट्रेन पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन, सासाराम, गया, पटना आदि स्टेशनों पर रूकेगी। इस स्पेशल ट्रेन में साधारण श्रेणी आरक्षित के 07 कोच लगेंगे।

गया जंक्शन पर महिला के साथ दुर्व्‍यवहार करने के आरोप में दो गिरफ्तार

गया जंक्शन के बाहरी परिसर मध्य फुटओवर ब्रिज के पास बुधवार को एक महिला यात्री के साथ दो युवक को दुव्र्यवहार करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। रेल थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया कि जंक्शन परिसर में एक महिला यात्री के साथ दुव्र्यवहार करने के आरोप में दो युवक को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि ड्यूटी में तैनात रेल पुलिस ने महिला से झगड़ा करते दो युवक को पकड़ा गया। गिरफ्तार युवकों में एक औरंगाबाद जिले के फेसर थाना क्षेत्र के बरकी बसडीहा निवासी शलेंद्र सिंह के पुत्र चंदन कुमार और दूसरा गया जिला के मोहनुपर थाना अंतर्गत जेठुआडाहा निवासी कैलू रविदास निवासी के पुत्र राकेश रविदास के रूप में पहचान किया गया। दोनों के विरुद्ध रेल थाना में महिला के आवेदन पर गिरफ्तार कर केस दर्ज किया गया।