संवाद सूत्र,फतेहपुर : गुरपा रेलवे स्टेशन के पास दुर्घटनाग्रस्त मालगाड़ी का मलबा हटाने के क्रम में बुधवार की देर रात मलबे में दबने से रेलवे के दो टेक्नीशियन गंभीर रूप से घायल हो गए। एक टेक्नीशियन की मौत इलाज के क्रम में गया के मगध मेडिकल कालेज सह अस्पताल में हो गई। दूसरे का इलाज चल रहा है। रेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पिछले कई दिनों से गुरपा स्टेशन पर 26 अक्टूबर को दुर्घटनाग्रस्त हुई मालगाड़ी के मलबे काे हटाने का कार्य किया जा रहा है। बुधवार की देर रात क्रेन से मलबा हटाया जा रहा था। जिसमें लोहे के टुकड़े को दो टेक्नीशियन सहारा दे रहे थे। इसी दौरान लोहे का बड़ा टुकड़ा क्रेन से फिसल कर नीचे गिर गया। जिससे दबकर टेक्नीशियन तीन रंजीत कुमार एवं मृग भूषण सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए। 

दूसरे टेक्नीशियन की स्थिति चिंताजनक

रेल प्रशासन ने उन्हें इलाज के लिए मालगाड़ी के माध्यम से पहले गया स्टेशन लेकर पहुचे। उसके बाद गया रेलवे अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए देर रात मगध मेडिकल कालेज सह अस्पताल रेफर कर दिया। गुरुवार की अल सुबह रंजीत कुमार की इलाज के दौरान मौत हो गयी। दूसरे टेक्नीशियन की स्थिति चिंताजनक बनी हुई है। मृतक टेक्नीशियन रंजीत कुमार बिहार के आरा जिले के चौड़ी थाना क्षेत्र के कारियार गांव के रहने वाले थे। रंजीत कुमार धनबाद लोको शेड के टेक्नीशियन के पद पर काम कर रहे थे। जिन्हें यहां मलबा हटवाने के लिए विभाग द्वारा भेजा गया था। उनकी मौत के बाद मलबा हटाने के कार्य में अवरोध पैदा हो गया है।

Edited By: Prashant Kumar Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट