संवाद सूत्र, परैया : प्रखंड स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की जांच गुरुआ विधायक विनय कुमार यादव ने की। अस्पताल की कुव्यवस्था की लगातार सूचना के बाद पहुंचे विधायक ने पूरे व्यवस्था का जायजा लिया। जहां प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी अवकाश में मिले। चिकित्सक रमेश लाल ड्यूटी में दिखे। इसके अलावा जीएनएम व अन्य कर्मी उपस्थित रहे। अस्पताल के प्रबंधन को लेकर जब जांच की गई तो बड़ा मामला सामने आया। 

स्वच्छता को लेकर रखी गयी आउट सोर्सिंग एजेंसी के द्वारा 22 कर्मियों का वेतन भुगतान दिखाया जाता है। जबकि महज 11 कर्मी स्वच्छता कार्य के लिए अस्पताल में नियुक्त है। बाकी कर्मियों के वेतन की राशि का बंदरबांट किया जाता है। इसके अलावा आउट सोर्सिंग से लगे जनरेटर में गड़बड़ झाला दिखा।

 बिजली कटने के अनुसार जनरेटर संचालन को मिलान किया गया है। अस्पताल में इसके अलावा अस्पताल परिसर के आवासीय भवन निर्माण कार्य की जांच गुरुआ विधायक विनय यादव ने की, जिसमें अनियमितता मिली। निर्माण सामग्री की गुणवत्ता को देखकर प्रतिनिधि ने रोष व्यक्त किया। विधायक यादव ने कहा कि मिनी प्लांट के जुड़ी दीवार कमजोर है। ईंट भी गुणवत्तापूर्ण नहीं मिला।

समस्या को लेकर भवन निर्माण विभाग कार्यपालक अभियंता से इसकी शिकायत करने की बात कही। जांच के क्रम में प्रखंड प्रमुख जितेंद्र नारायण यादव, स्वास्थ्य प्रबंधक विजय कुमार, मंझियावां के पूर्व मुखिया ज्योति रंजन, राजद युवा नेता आजाद कुमार आदि उपस्थित रहे।

Edited By: Prashant Kumar Pandey