गया। गया-धनबाद रेलखंड के पहाड़पुर-गुरपास्टेशन के बीच रविवार की सुबह करीब साढ़े सात बजे डाउन लाइन पर मालगाड़ी का इंजन फेल हो जाने के कारण रेल परिचालन ठप हो गया। कई ट्रेनें विलंब हो गई।

घटना के बाद डाउन लाइन पर परिचालन बंद कर दिया गया। गया और कोडरमा से रिलीफ वैन को भेज कर मरम्मत कार्य शुरू कराया गया। गया के स्टेशन प्रबंधक बीएन प्रसाद ने बताया कि पहाड़पुर-गुरपा स्टेशन के बीच डाउन लाइन पर मालगाड़ी का इंजन फेल होने से परिचालन करीब दस घंटे बाधित रहा। शाम पांच बजे डाउन लाइन पर पहली गाड़ी अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस को गया जंक्शन से रवाना किया गया। इसके बाद धीरे-धीरे गया जंक्शन के अलावा अन्य स्टेशनों पर खड़ी पैसेंजर एवं एक्सप्रेस ट्रेनों को रवाना किया गया।

इधर, परिचालन बाधित होने के कारण करीब तीन घंटे तक खड़ी पटना-हटिया सुपर, वाराणसी-आसनसोल पैसेंजर सहित अन्य ट्रेनों के यात्रियों ने डिप्टी एसएस कार्यालय में पहुंचकर हंगामा किया। रेलयात्रियों की शिकायत थी कि पूछताछ काउंटर से उन्हें सही जानकारी नहीं मिल रही है। आक्रोशित रेल यात्रियों को डिप्टी एसएस दीपक कुमार टू ने बताया कि पांच बजे के बाद ही डाउन लाइन पर परिचालन शुरू होगा। इसके लिए लगातार पूछताछ काउंटर से जानकारी देने का आदेश दिया गया। जिन ट्रेनों का परिचालन बाधित हुआ, उनमें अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस आठ घंटे विलंब रही। लालकुआं-हावड़ा एक्सप्रेस पांच घंटे, आनंद विहार-हटिया गरीब रथ एक्सप्रेस सात घंटे, नई दिल्ली-पुरी पुरुषोतम एक्सप्रेस साढ़े चार घंटे, दीक्षाभूमि धनबाद एक्सप्रेस तीन घंटे, पटना-हटिया जनशताब्दी एक्सप्रेस नौ घंटे, पटना-हटिया सुपर एक्सप्रेस तीन घंटे और वाराणसी-आसनसोल पैसेंजर का परिचालन छह घंटे विलंब से हुआ।

Posted By: Jagran