गया, विनय कुमार मिश्र।  नए परिसिमन के बाद 2010 में गठित बोधगया विधानसभा सुरक्षित क्षेत्र में चुनावी मुकाबला दो दलों यथा राजद और भाजपा के बीच होता रहा है। पिछली बार राजद ने यहां बाजी मारी थी। इस बार भी राजद से कुमार सर्वजीत और भाजपा से हरि मांझी चुनाव मैदान में हैं। जिनके बीच सीधा मुकाबला होगा। कई निर्दलीय प्रत्याशी चुनावी समर में रहे। कुल 17 प्रत्याशी मैदान में हैं लेकिन मुकाबला दो दलों के बीच ही होने के आसार हैं। खास बात यह कि इनमें से केवल चार बोधगया से और शेष 13 अतरी, बाराचट्टी, वजीरगंज, गया शहर और नवादा विधानसभा के प्रत्याशी हैं। फल्गु नदी का पानी गया तक नहीं पहुंच रहा यह यहां का प्रमुख मुद्दा है।

1957 से 1962 तक सामान्य रही बोधगया सीट: बोधगया विधानसभा क्षेत्र सन 1957 में अस्तित्व में आया और 1962 तक सामान्य सीट रहा। यहां से पहली बार शांति देवी व दूसरी बार कुलदीप महतो विजयी रहे। 1967 में यह सीट सुरक्षित घोषित हुआ। सुरक्षित होने के बाद पहली बार इस विधानसभा क्षेत्र से आर मांझी ने जीत हासिल की। उसके बाद वैसे तो कई विधायक दो-दो बार इस क्षेत्र से विजयी रहे।

लगातार दो बार किसी को नहीं मिला जीत का मौका: इतिहास को देखें तो पता चलता है कि इतने वर्षों में किसी एक व्यक्ति को बोधगया से लगातार दो बार विधायक बनने का रिकार्ड नहीं हैं। 1972 से 1990 तक बालिक राम और राजेश कुमार में सीधी टक्कर होती रही। एक बार बालिक राम तो दूसरी बार राजेश कुमार जीत दर्ज करते रहे। पिछली बार विधानसभा चुनाव 2015 में राजद के कुमार सर्वजीत विजयी हुए थे।  बता दें कि एक बार ऐसा भी मौका आया, जब वर्ष 2005 में राजद से जीत दर्ज किए फूलचंद मांझी को विधानसभा का चौखट भी पार करने का मौका नहीं मिला।

बोधगया विधानसभा का इन्होंने किया प्रतिनिधित्व

1957- शांति देवी

1962- कुलदीप महतो

1967- आर मांझी

1969- काली राम

1972- बालिक राम

1977- राजेश कुमार

1980- बालिक राम

1985- राजेश कुमार

1990- बालिक राम

1995- मालती देवी

1998- उप चुनाव-जीएस रामचन्द्र दास

2000- जीतनराम मांझी

2005- फूलचंद मांझी

2005- हरि मांझी

2009- उप चुनाव- कुमार सर्वजीत

2010- श्यामदेव पासवान

2015- कुमार सर्वजीत

बोधगया विस की कुल आबादी- 6,31,716

कुल मतदाता- 3,11,173

पुरुष मतदाता- 1,60,175

महिला मतदाता- 1,50,997

थर्ड जेंडर- 01

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस