गया, जेएनएन। बिहार के गया जिले में डबल मर्डर से दहशत व्याप्त है। अपराधियों ने हत्या की दोहरी वारदात को अंजाम दिया है, जिसमें गुरुआ थाना क्षेत्र के दरिऔरा में आमस थाना क्षेत्र के कसियाडीह गांव निवासी उमेश कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गई तो वहीं सामाजिक कार्यकर्ता रामकुमार सिंह की गला दबाकर हत्या की गई।

 शराब कारोबारी उमेश की हत्या की खबर मिलते ही पुलिस घटनास्थल पहुंची तो वहां से पुलिस को एक ऑटो भी मिला है जिसमें भारी मात्रा में देसी शराब लदी हुई थी।  

जानकारी के अनुसार मृतक उमेश शराब के अवैध कारोबार से जुड़ा हुआ था और वो झारखंड से शराब लाकर गया जिला में उसका व्यवसाय करता था।मंगलवार की रात वो शराब डिलीवरी के लिए गुरुआ की तरफ जा रहा था इसी दौरान रास्ते में ही उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गयी।

परिजनों ने भी स्वीकार किया है कि मृतक उमेश शराब के अवैध कारोबार से जुड़ा हुआ था। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए एएनएमसीएच भेज दिया है। अब पुलिस उन चार लड़कों की तलाश कर रही है जिसने बीती देर रात मृतक उमेश के घर जाकर परिजनों को हत्या होने की सूचना दी थी।

हत्या की दूसरी घटना परैया थाना क्षेत्र के उपरौली की है जहां अपराधियों ने सामाजिक कार्यकर्ता की गला दबाकर हत्या कर दी।  गांव के नदी किनारे हुई जहां के सामाजिक कार्यकर्ता रामकुमार सिंह की गला दबाकर हत्या की गई है और हत्या के बाद ईंट-पत्थर से उसका चेहरा कुचल दिया गया था।  

परिजनों के अनुसार बीती रात मोबाइल पर फोन करके मृतक रामकुमार सिंह को बुलाया गया था। मृतक को पहले शराब पिलाई गई और उसके बाद उनकी गला दबाकर हत्या कर दी गई। हत्यारों ने पहचान छिपाने के लिए मृतक के चेहरे को ईंट-पत्थर से कुचल दिया। पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में ले लिया है और छानबीन में जुट गई है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021