पेज-5

प्रशासन को पता भी नहीं चला, सहेलियों ने पहल कर रोका था बाल विवाह, फिर भी हो गई शादी

संवाद सूत्र, गुरुआ : गुरुआ पंचायत अंतर्गत गुरुआ बाजार के कोईरी टोला निवासी एक नाबालिग छात्रा की शादी हो गई और प्रशासन को पता भी नहीं चला।

आठवीं कक्षा की जिस छात्रा की शादी उसकी सहेलियों ने नाबालिग बताकर बीडीओ से रुकवा दी थी, उसी की गुपचुप तरीके से रविवार की रात उस छात्रा की शादी परिवार वालों ने रविवार की रात गुपचुप तरीके से करा दी। सोमवार की सुबह पौ फटने से पहले उसे अपनी ससुराल के लिए वाराणसी विदा कर दिया, लेकिन यह बात छिपी नहीं। रविवार की देर रात से ही इलाके में इसकी चर्चा थी। लोक लाज के चलते गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाली छात्रा के पिता व परिवार वालों ने इसे छिपाने की हर कोशिश की।

-------------------

पहले शादी 12 मई को तय थी

तयशुदा पूर्व कार्यक्रम के अनुसार छात्रा की शादी 12 मई को होनी थी। इसकी भनक उसके साथ पढ़ने वाली सहेलियों को लग गई थी। सहेलियों ने बीडीओ को इसकी जानकारी दे दी। बीडीओ बलवंत कुमार पांडेय ने पहल कर उसकी शादी रुकवा दी। थाना में बांड भराया गया कि कम उम्र में शादी नहीं की जाएगी, इसके बावजूद शादी हो गई।

---------------------

लोग शादी समारोह में शामिल हुए

रविवार की रात छात्रा के घर जेनरेटर लगा। बाजा तो नहीं बजा, पर बत्ती जलाई गई। वाराणसी से वर पक्ष के लोग आ गए थे। घर में शादी की तैयारी थी ही। झटपट शादी हुई और सुबह में उसे विदा कर दिया गया। इस शादी में गांव के कई लोग शामिल हुए। गरीब पिता से बन पड़ा, उस अनुरूप बने भोजन का लोगों ने सेवन भी किया।

--------------------

मुखिया का है कहना

गुरुआ पंचायत की मुखिया कमला देवी का कहना है कि रविवार को वे अपनी पंचायत में नहीं थीं। उनके पति मुरारी प्रसाद कहते हैं कि परैया में रालोसपा नेता धर्मेन्द्र वर्मा के भाई की शादी में शामिल होने चले आए थे। सुबह लौटने पर इसके बारे में पता चला। उन्होंने यह भी कहा कि यह मामला मुखिया के न्यायिक क्षेत्र से बाहर है। मामला सरपंच से जुड़ा है। सरपंच ब्रजबाला कुमारी से संपर्क का प्रयास किया गया, पर बात नहीं हो सकी।

-------------------

थानाध्यक्ष का है कहना

थानाध्यक्ष विकास कुमार ने कहा कि उन्हें बीडीओ की ओर से शादी रुकवाने संबंधित कोई लिखित आदेश नहीं मिला था। मिला होता तो कार्रवाई जरूर की जाती। इस तरह की शादी रुकवाने की कोशिश की जाती। छात्रा की शादी हुई है या नहीं, इसका पता लगाया जा रहा है।

-----------------

बीडीओ का है कहना

बीडीओ बलवंत कुमार पांडेय का कहना है कि उन्होंने थानाध्यक्ष को नाबालिग छात्रा की शादी के संबंध में सूचना देकर इसे रोकने को कहा था। यदि वे ऐसा नहीं कर सके तो आगे की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल, जिला मुख्यालय में हूं। प्रखंड मुख्यालय लौटने पर इस मामले को देखा जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप