गया, नवादा, जागरण टीम। लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह सांसद चिराग पासवान 30 जुलाई को आशीर्वाद यात्रा के तहत गया आएंगे। बुधवार को सर्किट हाउस में प्रेसवार्ता कर लोक जनशक्ति पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शोभा सिन्हा ने कहा कि 30 जुलाई को राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान आशीर्वाद यात्रा के तहत गया की धरती पर आगमन है। आशीर्वाद यात्रा की तैयारी पूरी कर ली गई है। गया के जगह-जगह पर होर्डिंग व बैनर-पोस्टर लग चुके हैं। वहीं, वरिष्ठ नेता अरविंद कुमार सिंह ने कहा कि आशीर्वाद यात्रा गया का ऐतिहासिक यात्रा रहेगा। आशीर्वाद यात्रा में जनता का अपार समर्थन मिल रहा है उस दिन अलग ही जन सैलाब देखने को मिलेगा। इस मौके पर लोजपा जिलाध्यक्ष दिलीप कुमार सिंह, कमलेश शर्मा, मुकेश कुमार यादव समेत कई पार्टी के नेता मौजूद थे।

चिराग को जनता का सहारा

बता दें कि चिराग पासवान ने स्‍वर्गीय पिता राम विलास पासवान की जयंती पांच जुलाई से आशीर्वाद यात्रा की शुरुआत की है।  लोजपा पर चाचा पशुपति पारस के विरोध में उत्‍तराधिकार की लड़ाई लड़ रहे चिराग पासवान को अब सिर्फ जनता का ही सहारा दिख रहा है। पार्टी में धमासान के बाद बीजेपी भी किनारा करती दिख रही है। हालांकि इस बीच तेजस्‍वी यादव ने उन्‍हें महागठबंधन में शामिल होने का खुला न्‍यौता दिया। मगर चिराग का दो टूक कहना है कि गठबंधन चुनाव के वक्‍त किया जाएगा। फिलहाल उनका फोकस पार्टी और संगठन को मजबूत करना है। पार्टी में टूट से आहत चिराग ने कहा था कि अपनों (चाचा) के धोखा के बाद अब जनता ही उनका सहारा है, इसलिए वे आशीर्वाद यात्रा पर निकले हैं।

31 जुलाई को नवादा के कौआकोल में

चिराग पासवान आशीर्वाद यात्रा के क्रम में 31 जुलाई को नवादा के कौआकोल जाएंगे। लोक जनशक्ति पार्टी में फूट के बाद आशीर्वाद यात्रा पर निकले लोजपा सुप्रीमों व जमुई के सांसद चिराग पासवान 31 जुलाई को कार्यक्रम के तहत लोकनायक की कर्मभूमि कौआकोल पहुंचेंगे। इसकी जानकारी देते हुए वरिष्ठ लोजपा नेता अयोध्या पासवान ने बताया कि 31 जुलाई को कौआकोल में चिराग पासवान की आशीर्वाद यात्रा को भव्य रूप दिया जाएगा। जिसके लिए कार्यकर्ताओं के द्वारा अभी से ही प्रचार प्रसार किया जा रहा है। बुधवार को भी पैक्स अध्यक्ष नवल पासवान की अध्यक्षता में बैठक आयोजित कर आशीर्वाद यात्रा की सफलता को लेकर रणनीति बनाई गई।

Edited By: Sumita Jaiswal