गया [जेएनएन]। नागरिकता संशोधन बिल (CAB) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NRC) के विरोध में देश भर में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं। इसे लेकर बिहार के गया में अल्पसंख्यक समाज की ओर से निकाले गए आक्रोश मार्च में प्रदर्शनकारियों ने जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान गया में भारतीय जनता पार्टी (BJP) महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष कुमारी शोभा सिन्हा (Shobha Sinha) पर हमला किया गया। हमले में उनकी टाटा सफारी गाड़ी बुरी तरह क्षतिग्रस्‍त हो गई। इस बीच घटना पर राजनीति भी गर्म होती दिख रही है।

प्रदर्शन के दौरान बीजेपी महिला नेता की गाड़ी पर हमला

मिली जानकारी के अनुसार गया के रामपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत मिर्जा गालिब कॉलेज के निकट पेट्रोल पंप के पास अल्‍पसंख्‍यक समाज के कुछ लोग नागरिकता संशोधन बिल (CAB) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NRC) के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे। इसी दौरान वहां से बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष कुमारी शोभा सिन्हा की टाटा सफारी गाड़ी गुजरी। भीड़ ने बीजेपी नेता की गाड़ी पर हमला कर दिया। हमले में गाड़ी बुरी तरह क्षतिग्रस्‍त हो गई। बीजेपी नेता व उनके बेटे ने हमलावरों से बचकर किसी तरह जान बचाई।

बीजेपी नेता के पति ने दर्ज कराई घटना की एफआइआर

बाद में बीजेपी नेता के पति रामप्रवेश पासवान ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआइआर (FIR) दर्ज करा कार्रवाई की मांग की है। गया के चाणक्यपुरी कॉलोनी मोहल्ला निवासी राम प्रवेश पासवान ने एफआइआर के आवेदन में कहा है कि उनका परिवार निजी टाटा सफारी गाड़ी (जेएच-01सीपी/ 1674) से बाजार जा रहा था कि रामपुर थाना क्षेत्र के मिर्जा गालिब पेट्रोल पंप के पास पहुंचने पर अचानक अल्‍पसंख्‍यक समुदाय के लोगों ने गाड़ी रोक ली। उन्‍होंने गाड़ी से बीजेपी का झंडा उतार दिया तथा हमला कर दिया। इसमें गाड़ी का पिछला शीशा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।

बेटे संग जान बचाकर भागीं महिला नेता, चालक की पिटाई

घटना के समय गाड़ी में बीजेपी नेता शोभा सिन्हा अपने बेटे के साथ बैठीं थीं। भीड़ ने उनके साथ अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए मारपीट की कोशिश की। किसी तरह दोनों ने भागकर जान बचाई, लेकिन भीड़ ने गाड़ी चालक को पकड़कर उसकी पिटाई कर दी। चालक भी गाड़ी छोड़ जैसे-तैसे वहां से भागा।

एफआइआर के बाद सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही पुलिस

घटना को लेकर रामपुर थानाध्यक्ष प्रशांत कुमार ने बताया कि अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई है। घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है।

घटना पर गरमाई राजनीति, बीजेपी सांसद ने कही ये बात

इस बीच घटना पर राजनीति भी गर्म होती दिख रही है। औरंगाबाद के बीजेपी सांसद सुशील कुमार सिंह ने भाजपा नेता पर हमले की निंदा की है। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति वर्ग की महिला नेता पर हमला अत्यंत निंदनीय अपराध है। राजनीति में हिंसा की कोई जगह नहीं होनी चाहिए। किसी राजनीतिक दल की नीतियों या सरकार के किसी निर्णय से सारे लोग सहमत हों, यह जरूरी नहीं है। लेकिन किसी महिला पर हमला विरोधियों की विकृत मानसिकता को दर्शाता है। दोषियों की शीघ्र गिरफ्तारी कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

बीजेपी के गया जिलाध्यक्ष धनराज शर्मा व मीडिया प्रभारी युगेश कुमार ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि 'मुस्लिम फ्रंट' के लोगों ने महिला नेता पर जानलेवा हमला किया। पुलिस घटना में संलिप्‍त लोगों को गिरफ्तार करे। जुलूस का नेतृत्व करने वाले नेताओं पर भी एफआरआर दर्ज कर उन्‍हें गिरफ्तार किया जाए।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस