औरंगाबाद, जागरण संवाददाता। जिले में पहले चरण के लिए आज सदर प्रखंड क्षेत्र केहो रहे पंचायत चुनाव जिला व पुलिस प्रशासन के लिए अग्नि परीक्षा होगी। चुनाव को लेकर सभी मतदान केंद्रों पर सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की गई है। मतदान की सुरक्षा छह लेयर में की गई है। बाहरी सुरक्षा में जिले में नक्सल अभियान में लगे सीआरपीएफ, एससबी एवं एसटीएफ के सुरक्षाबलों को लगाया गया है। सुरक्षाबल बाइक से गश्ती करेंगे। चुनाव में गड़बड़ी करने वालों से निपटने के लिए क्यूआरटी की तीन टीम को लगाया गया है। क्यूआरटी की टीम किसी भी मतदान में बाधा पैदा करने वालों से सख्ती से निपटेगी।

इसी बीच सूचना है कि औरंगाबाद सदर प्रखंड के नौगढ़ पंचायत के बिसौनी गांव में बूथ संख्या 144 और  145 पर  असामाजिक तत्वों ने की बूथ लूटने का प्रयास किया। पुलिस पर पथराव भी किया गया। घटना की सूचना मिलते ही डीएम सौरभ जोरवाल और एसपी कांतेश कुमार मिश्रा समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस का कहना है कि बूथ लूटने के प्रयास में असामाजिक तत्‍वों ने फायरिंग भी की।

ये हैं संवेदनशील क्षेत्र

एसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने बताया कि चुनाव में गड़बड़ी करने वालों के साथ सख्ती से निपटने की पूरी तैयारी की गई है। सदर प्रखंड के थानों के अलावा जिले के सभी थाना से पुलिस अधिकारी एवं बलों को लगाया गया है। महिला पुलिसकर्मियों की भी ड्यूटी लगाई गई है। चुनाव के दौरान सघन वाहन जांच अभियान चलाया जाएगा। बताया कि पहले चरण के चुनाव में  पांच बूथ नक्सल प्रभावित है। तीन बूथ फेसर थाना के बाकन गांव स्थित मध्य विद्यालय एवं दो बूथ मुफस्सिल थाना के मंझार पंचायत के प्राथमिक विद्यालय बिजोई में है। इन बूथों पर सुरक्षा की विशेष व्यवस्था की गई है।

इसके अलावा चुनाव की सुरक्षा में सेक्टर के ऊपर जोनल और जोनल के ऊपर सब  जोनल को लगाया गया है। सेक्टर, जोनल एवं सबजोनल के पुलिस पदाधिकारी, दंडाधिकारी एवं सुरक्षाबल भ्रमणशील रहेंगे और ऐसी व्यवस्था बनाई गई है कि किसी भी मतदान केंद्र पर किसी भी तरह की गड़बड़ी की शिकायत पर 10 से 15 मिनट में पहुंचकर गड़बड़ी करने वालों को पकड़कर सीधे थाना भेजेंगे। मतदान केंद्रों पर मतदानकर्मियों एवं मतदान की सुरक्षा में पुलिसबल के साथ पुलिस पदाधिकारी एवं दंडाधिकारी को तैनात किया गया है। किसी भी मतदान केंद्र पर भीड़ न लगने देने की व्यवस्था की गई है।

डीएम सौरभ जोरवाल ने बताया कि पहले चरण के चुनाव में सुरक्षा पुख्ता की गई है। व्यवस्था इस तरह की गई है कि जिला व पुलिस प्रशासन निष्पक्ष, भयमुक्त एवं हिंसामुक्त चुनाव कराने में पूरी तरह से सफल रहे। 60 सेक्टर, 15 जोनल एवं सात सुपर जोनल बनाया गया है। किसी भी तरह की सूचना संग्रह करने और उसपर त्वरित कार्रवाई के लिए नियंत्रण कक्ष बनाया गया है।

यह भी पढ़ें : LIVE Bihar Panchayat Chunav: मुंगेर के तारापुर में बार-बार धोखा दे रहा EVM, कई जगह वोटिंग में हुआ विलंब

 

Edited By: Sumita Jaiswal