डेहरी ऑन सोन (रोहतास), संवाद सहयोगी। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच लोगों की लापरवाही भी चरम पर है। बिना मास्क लगाए लोग खुले तौर पर घर से बाहर निकल कर भीड़ का हिस्सा बन रहे हैं। ऐसे लोगों का संक्रमण से बचाव व रोकथाम को लेकर सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करने से कोई वास्ता नहीं रह गया है। इक्के दुक्के लोग ही मास्क पहने नजर आते हैं। हैरानी की बात यह है कि दिशा निर्देशों का अनुपालन कराने की जिम्मेदारी जिन जिन प्रशासनिक अधिकारियों पर है वह दृश्य से गायब है।  डेहरी के अंतर राज्यीय बस स्टैंड में बाहर के राज्यों से यात्री भर भर कर आ रहे हैं। लेकिन यहां भी न जांच की व्यवस्था है न क्षमता से अधिक सीटों पर यात्रियों के लाने पर रोक लगाने की। ऐसे में यात्री बिना जांच के ही सीधे अपने घर चले जा रहे हैं।

दिल्‍ली, यूपी और छत्‍तीसगढ़ से हर दिन सैकड़ों लोगों को लेकर आ रही बसें

डेहरी नगर परिषद अंतर्राज्यीय बस स्टैंड एवं राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या दो पर नगर परिषद के समीप दिल्ली, वाराणसी, छत्तीसगढ़, झारखंड सहित कई राज्यों से रोजाना दर्जनों की संख्या में बसों का आवागमन होता है डबल डेकर इन बसों में यात्री ठूंस ठूसकर भरे रहते हैं। बस स्टैंड से उतरने के बाद यात्री सीधे अपने गंतव्य स्थान और घर पहुंच जाते हैं। जहां बाहरी प्रदेशों से आ रहे लोगों को कोरोनावायरस जांच करवाने हेतु कोई रोकने टोकने वाला नहीं रहता है। वही नगर परिषद बस स्टैंड स्थित बस पड़ाव से प्रतिदिन क्षमता से अधिक यात्रियों को बैठाकर बसों की रवानगी की जाती है ।  सरकार के निर्देश के बावजूद एक सीट पर तीनों लोगों को जबरन बैठाया जाता है। 

परिवहन विभाग को किया जा रहा सूचित

डेहरी एसडीएम सुनील कुमार सिंह ने बताया कि वायरस से बचाव व रोकथाम के लिए सरकार के दिशा निर्देशों का पालन अनिवार्य है। इस दिशा निर्देश के लिए पदाधिकारियों को  सख्ती से अनुपालन कराने के लिए निर्देश दिया गया है। सार्वजनिक व धार्मिक स्थलों पर भी भीड़ इकट्ठा नहीं होने दी जाएगी और संध्या 6 बजे के बाद आवश्यक सेवा छोड़कर सभी दुकानें बंद रहेगी। बाहरी प्रदेशों से आने वाली बसों पर नजर रखने तथा परिचालन में सरकार के निर्देशों का उल्लंघन पाए जाने पर कार्रवाई के लिए परिवहन विभाग को सूचित किया जा रहा है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021