डेहरी आन-सोन (रोहतास), संवाद सूत्र। एक समय था कि महिलाएं लकडी, उपला जलाकर खाना बनाती थी। धुआं के चलते समय से पहले उनकी आंख की रोशनी चली जाती थी और फेफड़ा पर भी इसका दुष्प्रभाव पड़ रहा था। ऐसे में धुआं से बचाने के लिए गरीब परिवार की महिलाओं को निशुल्क गैस कनेक्शन दिया जा रहा है। इसी के तहत केंद्र सरकार की उज्ज्वला योजना फेज टू के अंतर्गत डेहरी पाली रोड स्थित भारत गैस एजेंसी द्वारा शुक्रवार को 17 लाभुकों के बीच निशुल्क गैस कनेक्शन वितरण किया गया।

एजेंसी संचालक अनिल कुमार सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना फेज टू के अंतर्गत निशुल्क गैस कनेक्शन 17 महिला लाभुकों को दिया गया। जिसमें 14 किलोग्राम का एक भरा हुआ गैस सिलेंडर, हास पाइप, उज्ज्वला चूल्हा, रेगुलेटर, पासबुक  कनेक्शनधारियों को दिया जा रहा है। मुनिया देवी, गुड्डी देवी, रेशमा देवी, ममता देवी ,अनामिका कुमारी, अनु कुमारी, एकता कुमारी, पायल कुमारी समेत 17 लाभुकों को जब गैस चूल्हा दिया गया, तब इन महिलाओं के चेहरे पर खुशी देखी जा सकती थी। अनामिका कुमारी ने कहा कि कई वर्षों से हम कोयला के चूर से खाना बनाते हैं, जिससे घर की दीवार के साथ-साथ स्वास्थ्य भी खराब होता था। प्रधानमंत्री की इस योजना से महिलाओं को घर की रसोई में काम करने में काफी राहत मिलेगी।

जिला जज ने किया औचक निरीक्षण

व्यवहार न्यायालय सासाराम में योगदान के बाद जिला जज अरुण कुमार श्रीवास्तव ने शुक्रवार को सिविल कोर्ट के न्यायालय का औचक निरीक्षण किया।

जिला जज ने कोर्ट के प्रांगण में हो रहे जलजमाव पर संज्ञान लेते हुए तत्काल भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक पदाधिकारी को बुलाकर जल जमाव को दूर करने का आदेश दिया,जिससे कोर्टकर्मी व वकीलों को परेशानी न हो। वही इनके द्वारा कोर्ट भवन का भी मुआयना किया गया। इस मौके जिला जज के साथ प्रभारी सीजेएम राघवेंद्र नारायण ङ्क्षसह, कोर्ट नाजिर समेत अन्य मौजूद थे।

 

Edited By: Sumita Jaiswal