गया । गया कॉलेज बीएड के प्रशिक्षु शिक्षकों द्वारा मिडिल स्कूल डेल्हा में मंगलवार को विभिन्न सह शैक्षणिक गतिविधियों का आयोजन किया गया। प्रशिक्षु शिक्षकों द्वारा गीत नृत्य तथा क्यूज एवं चित्राकन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें सफल प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया।

बीएड विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. धनंजय धीरज ने कहा कि स्कूल इंटर्नशिप शिक्षक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम की रीढ़ है। इंटर्नशिप प्रशिक्षण को कक्षा में प्राप्त सैद्धातिक ज्ञान को व्यवहारिक धरातल पर उतारने का अवसर प्रदान करता है। उन्होंने प्रशिक्षुओं से कहा कि कक्षा में प्राप्त एवं पुस्तकों में व्याप्त ज्ञान को एकत्रित करते हुए विभिन्न शिक्षण कला एवं कौशलों का समागम करते हुए विद्यार्थियों के सर्वागीण विकास के लिए समर्पण भाव से काम करें। साथ ही शिक्षक विद्यार्थियों में छिपी प्रतिभा को पहचानने एवं उसे निखारने का प्रयास करें।

बीएड विभाग के सहायक प्रो. पवन कुमार ने कहा कि व्यवहार में परिमार्जन ही शिक्षा है। आप सभी प्रशिक्षु शिक्षक अपने व्यवहार में परिमार्जन करते हुए समाज एवं राष्ट्र के नवनिर्माण में अपनी भूमिका अदा करें। कार्यक्रम समन्वयक अजय शर्मा ने कहा कि शैक्षणिक गतिविधियों में विद्यार्थी बढ़-चढ़कर हिस्सा लें। इससे विद्यार्थियों में क्रियात्मक एवं कौशलात्मक क्षमता का विकास होता है। मिडिल स्कूल डेल्हा के प्राचार्य के आर्य ने प्रशिक्षु शिक्षकों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि आप सभी प्रशिक्षु शिक्षकों में क्षमता अपार है।

विभिन्न प्रतिस्पर्धा गीत, क्विज, नृत्य, पोस्टर, मेकिंग प्रतियोगिताओं में सलोनी, सीखा, विशाल, सुमन को प्रथम स्थान मिला। कार्यक्रम को संपन्न कराने में प्रशिक्षु शिक्षकों में मुकेश, बलराम, प्रीति, सानू, अविनाश, सीमा, सुधीर, गौरव, मुरारी, अनुपम, विनीता, अंजली, सविता, प्रियंका, निभा आदि की महत्वपूर्ण भूमिका रही। इस मौके पर इंटर्नशिप कोऑर्डिनेटर सदरे आलम एवं विद्यालय की शिक्षिका डॉ. पुष्पा कुमारी एवं भारी मात्रा में विद्यालय के छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस