मोतिहारी। जिले के तुरकौलिया प्रखंड स्थित रधुनाथपुर पंचायत के वार्ड नंबर पांच निवासी रहमत अली सोमवार को अपने पूरे परिवार के साथ पुलिस अधीक्षक कार्यालय गेट के समक्ष न्याय की उम्मीद में बैठ गया। वे एसपी कार्यालय के समक्ष समस्याओं के निदान नहीं होने पर आत्मदाह का निर्णय ले लिया। इसकी जानकारी अधिकारियों को मिलने के साथ पीड़ित परिवार से मिलने सदर अनुमंडल पदाधिकारी प्रियरंजन राजू पहुंचे। इस बीच उन्होंने पीड़ित परिवार से बातचीत की और आवेदन मांगा। रहमत अली ने बताया कि उसकी जमीन पर जबरन गांव के ही विश्वनाथ राम, ¨पटू राम, चंदन राम, ओमप्रकाश राम, जयप्रकाश सहनी, मनोज सहनी, गोलू कुमार व अमित कुमार उर्फ मंगल ने फूस की झोपड़ रखकर हमें जमीन छोड़ भाग जाने को कह रहे हैं। पूछताछ करने के दौरान परिवार के लोगों के साथ मारपीट की और पूरे परिवार की हत्या की धमकी देकर चले गए। रहमत ने कहा कि अब साहेब से ही न्याय की उम्मीद है, नही तो पूरा परिवार यही आत्मदाह करेंगे। मामले की सूचना पर सदर डीएसपी मुरली मनोहर मांझी, रधुनाथपुर ओपी प्रभारी व तुरकौलिया अंचलाधिकारी भी पहुंचे और मामले की जानकारी ली। मामले में एसडीओ प्रियरंजन राजू ने बताया कि आवेदन के आलोक में अंचलाधिकारी को मामले की जांच का निर्देश दिया गया है। जांच के बाद दोषियों के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। तत्काल पीड़ित परिवार को जरूरी सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। वर्जन

तीन दिन पूर्व पीड़ित परिवार उनसे मिला था, मौखिक शिकायत भी की। बाद में आवेदन भी दिया। मामले को छापेमारी कर चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी हुई।पुलिस अपना काम कर रही है। मामले की जांच के बाद दोषियों के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

मुरली मनोहन मांझी

सदर पुलिस उपाधीक्षक, (पू.चं.)

Posted By: Jagran