मोतिहारी। रक्सौल शहरवासियों के लिए खुशखबरी है। यहां के लोगों को जल्द ही नए ट्रांसफार्मर से विद्युत आपूर्ति का लाभ मिलने लगेगा। आने वाले समय में रक्सौल शहर की विद्युत आपूर्ति को सु²ढ़ किया जाएगा। इसके तहत 22 नए ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। जिन इलाकों के ट्रांसफार्मर पर ज्यादा लोड है उन्हें चिह्नित कर लोड बांटा जाएगा। रक्सौल में तीन ट्रांसफार्मर 315 केवीए व 19 ट्रांसफार्मर 200 केवीए के लगेंगे। भारत-नेपाल सीमा के सीमावर्ती शहर रक्सौल के अलावा जिले के कई शहरी क्षेत्रों की आपूर्ति व्यवस्था को बेहतर बनाने की दिशा में कार्य किए जाएंगे। इसे इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम (आइपीडीएस) से पूरा किया जाएगा। योजना के माध्यम से जिले में चयनित कई जगहों पर कार्य शुरू कर दिए गए है। नए ट्रांसफार्मर लग जाने के बाद वोल्टेज की समस्या दूर होगी। साथ ही फेज उड़ने की समस्या से भी निजात मिल जाएगी। योजना के तहत चयनित अरेराज एवं ढाका में 200 केवीए के 12-12 ट्रांसफार्मर, सुगौली में 315 केवीए के दो, 200 केवीए के आठ ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। जबकि एक सौ केवीए के पांच ट्रांसफार्मर का क्षमता विस्तार दो सौ केवीए में किया जाएगा। पकड़ीदयाल में दो सौ केवीए के 12, केसरिया में दो सौ केवीए के 06, मेहसी में दो सौ केवीए के 03, चकिया में दो सौ केवीए के 09 एवं मधुबन में दो सौ केवीए के 05 नये ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। चयनित जगहों पर तार बदलने के साथ-साथ कई अन्य विद्युत कार्य किए जाने की भी योजना है।

मोतिहारी शहर में लगेंगे 67 ट्रांसफार्मर

योजना के माध्यम से मोतिहारी शहरी क्षेत्र में कुल 67 नये ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। इसमें 315 केवीए के तीन ट्रांसफार्मर के अलावा दो सौ केवीए के 32, एक सौ केवीए के 06 ट्रांसफार्मर है। जबकि कई ट्रांसफार्मर के क्षमता का विस्तार किया जाएगा। इसमें 63 केवीए के ट्रांसफार्मर का क्षमता का विस्तार कर इसके जगह पर 200 केवीए के चार ट्रांसफार्मर एवं एक सौ केवीए के जगह पर दो सौ केवीए के कुल 22 ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। शहर के दो जगहों पर नये ट्रांसफार्मर लगा दिए गए है। पोल भी लगाए जा रहे है।

इनसेट

आइपीडीएस योजना से कार्य पूरा होने के बाद विद्युत आपूर्ति व्यवस्था में काफी सुधार हो जाएगा। योजना के माध्यम से कार्य जारी है। जल्द ही कार्य को गति मिलेगी। भारत-नेपाल के सीमावर्ती शहर रक्सौल में नए ट्रांसफार्मर लगने के बाद वहां के उपभोक्ताओं की सुविधा बढ़ेगी।

- प्रणव कुमार, विद्युत अधीक्षण अभियंता, चंपारण सर्किल।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप