दरभंगा। सहरसा जिले के जलई ओपी क्षेत्र के बघवा चौक पर रविवार को फिनो पेमेंट बैंक के डिस्ट्रीब्यूटर से हुई 20 लाख रुपये की लूट में पुलिस ने चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से लूट के लगभग आठ लाख रुपये बरामद किए गए हैं। पकड़े गए बदमाशों में एक बधवा गांव का भी शातिर बदमाश शामिल है। लूट की शेष राशि की बरामदगी और अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। पुलिस सूत्रों के अनुसार गुरुवार को सहरसा जिले की पुलिस इस मामले का पर्दाफाश करेगी।

इस बीच जलई ओपी पुलिस ने गिरफ्तार बदमाशों में एक को दरभंगा के जमालपुर थानाक्षेत्र के ढंगा गांव लेकर पहुंची। वहां उससे कड़ी पूछताछ की गई। पुलिस यह जानना चाह रही थी घटना को अंजाम देने के बाद किन रास्तों का इस्तेमाल किया और कैसे फरार हुआ। ढंगा जाने का कारण भी पूछा। वहां की पुलिस को शक था कि घटना में दरभंगा क्षेत्र का भी बदमाश शामिल था, लेकिन पूछताछ में ऐसी कोई बात सामने नहीं आई। इसके बाद जलई पुलिस गिरफ्तार आरोपित को लेकर लौट गई। वहीं पीड़ित व सहरसा जिले के अलीनगर निवासी सह फिनो पेमेंट बैंक के डिस्ट्रीब्यूटर मसिहउज्जमां ने बताया कि उसे पुलिस ने बुलाया था। जाने पर पुलिस ने उससे मिली उपलब्धि की जानकारी दी। कितने रुपये बरामद किए गए इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई। गुरुवार को सब कुछ साफ कर दिया जाएगा। मंत्री संजय झा के आने पर दर्ज हुई प्राथमिकी

पीड़ित मसिहउज्जमां ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए तीन दिन तक भटकता रहा। तीसरे दिन मंगलवार को घटनास्थल से जुड़े लोगों ने सड़क जाम कर दिया। वहां अचानक जल संसाधन मंत्री संजय झा पहुंचे और उन्होंने मामले पर संज्ञान लेते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई और उनके निर्देश के बाद यहां की पुलिस एक्शन में आई। अगर मंत्री संजय झा नहीं आते तो पर्दाफाश की बात तो दूर प्राथमिकी भी दर्ज नहीं होती। पुलिस मुख्यालय भी था गंभीर

सहरसा पुलिस ने जो सीमा विवाद किया, उसकी सारी जानकारी पुलिस मुख्यालय को मिल गई। मुख्यालय अपर पुलिस महानिदेशक ने पूरे मामले की जानकारी ली। इसमें घटनास्थल सहरसा ही पाया गया। इस कारण से प्राथमिकी दर्ज कराने के साथ-साथ मामले के पर्दाफाश के लिए पुलिस मुख्यालय लगातार मुानीटरिग कर रहे थे। यह दबाव काम आया और बदमाशों की गिरफ्तारी के साथ लूट के रुपये भी बरामद किए गए। दरभंगा सीमावर्ती थानाक्षेत्र में मिली थी बदमाशों की बाइक :

फिनो पेमेंट बैंक के डिस्ट्रीब्यूटर मसिहउज्जमां रविवार की सुबह बस से जलई ओपी क्षेत्र के बघवा चौक पर बस से पहुंचे। नीचे उतरने के साथ ही मास्क पहने बाइक सवार तीन बदमाशों ने फायरिग कर मसिहउज्जमां से 20 लाख रुपये से भरे बैग लूटकर फरार हो गए। मसिहउज्जमां स्थानीय सीएसपी संचालकों को रुपये पहुंचाने गए थे। घटना को अंजाम देने के बाद तीनों बदमाश दरभंगा सीमावर्ती जमालपुर थानाक्षेत्र के ढंगा में बाइक छोड़कर नदी में छलांग लगाकर फरार हो गए। दरभंगा पुलिस ने बाइक को कब्जे में लेकर जांच की तो तो पता चला कि उक्त खगड़िया जिले के गांधी यादव की है। इस इनपुट पर बदमाशों तक सहरसा पुलिस पहुंच गई।

----------

Edited By: Jagran