मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

दरभंगा। पांच दिवसीय पल्स पोलियो नियंत्रण अभियान की पूर्व संध्या पर शनिवार को एमएलएसएम कॉलेज में जागरूकता अभियान पर गोष्ठी हुई। मौके पर सीएस डॉ. एएन झा ने एनसीसी के छात्रों की रैली को विदा किया। आयोजित गोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में काफी लंबे समय से पोलियो का कोई केस नहीं पाया गया है। लेकिन पड़ोसी देशों में पोलियो केस पाए जाने के मामले सामने आए हैं। इसलिए पोलियो वायरस के नियंत्रण के लिए जीरो से पांच साल तक के बच्चों को इस चक्र में पोलियो खुराक पिलाना जरूरी है। सीएस डॉ. झा ने कहा कि राष्ट्र निर्माण में नहीं बल्कि पोलियो उन्मूलन में भी एनसीसी की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। इंडियन मेडिकल एसोशिएसन के जिला शाखा के सचिव डॉ. हरेंद्र कुमार ने बताया कि पोलियो एक ऐसा रोग है जिसमें बच्चों को पोलियो प्रतिरक्षण ही बचा सकता है। रोटरी क्लब आफ दरभंगा के डॉ. सुभाष सिंह ने कहा कि पोलियो के नियंत्रण के लिए पोलियो की खुराक बच्चों को जरूर पिलाएं। गोष्ठी को एसआरसी दिलीप कुमार झा, कैप्टन अनिल कुमार सिह, डीआईओ डॉ. एके मिश्रा, यूनिसेफ के एसएमसी शशिकांत सिह, मान राय, संतोष राय, विक्रम बोरा, डीपीएम विशाल कुमार सिंह, एसएमओ डॉ. बसवराज, बीएमसी गणेश आचार्य, राजीव कुमार आदि ने संबोधित किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप