दरभंगा। सोनकी ओपी क्षेत्र के शाहजादपुर में शनिवार को नवविवाहिता निभा कुमारी की मौत मामले में मां रेखा देवी के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। अपने बयान मे मां ने बार-बार दहेज के लिए शारीरिक मानसिक तौर पर निभा को प्रताड़ित कर अंत में हत्या करने का आरोप ससुराल वालों पर लगाया है। मात्र चार महीने पहले निभा की शादी रमन मंडल से ¨हदू रीति-रिवाज के तहत संपन्न हुई थी। ससुराली पुलिस के समक्ष अपनी सफाई में कह रहे थे कि उसकी हत्या नहीं की गई है। बल्कि शार्ट सर्किट से लगी आग से जलकर मौत हुई है। स्थानीय लोगों की मानें तो निभा के ससुर चन्देशवर मंडल के पास छत का भी मकान है। अपने पति के साथ निभा छत वाले मकान में रहती थी। जबकि आग फूस वाली मकान में लगी थी। वह भी लाइट चार्ज करने के दौरान शॉर्ट सर्किट होने के कारण। इतनी आग फैल गयी कि उसमें एक की जान ही चली गई। लोगों का कहना है घटना शनिवार की शाम 6 से 7 बजे के बीच की है। कोई चीख-पुकार नहीं और निभा का पूरा शरीर आग में जल गया। ससुरालियों का तर्क संशय भरा है। मृतका के मुंह से जीभ बाहर निकलना जो सामान्य तौर पर आग से जलने के कारण हुई मौत से नहीं होता है। बहू की मौत के बाद भी उसके मायके वाले लोगों को इस बात की सूचना गांव के लोगों के द्वारा दी गई। यह सारी बातें साजिश की ओर इशारा करती है। ओपी अध्यक्ष धर्मपाल बताते हैं कि शव को पोस्टमार्टम करवाकर मायके वाले को सौंप दिया गया है। चचेरे ससुर एवं सास को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है। पति एवं ससुर की तलाश जारी है। उसे भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

Posted By: Jagran