दरभंगा । पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में वृद्धि व महंगाई के विरोध को लेकर कांग्रेस समेत अन्य विरोधी दलों का भारत बंद दरभंगा में सफल रहा। कांग्रेस, राजद, वामदल, जाप, हम, सपा आदि के कार्यकर्ता एवं नेता सुबह से ही सड़क पर उतर कर बंदी को सफल बनाने में लगे थे। यही कारण था कि बंद का व्यापक असर दरभंगा में देखने को मिला। दुकानें बंद थी। स्कूल-कॉलेज को बंद करने की घोषणा एक दिन पूर्व ही कर दी गई थी। इस कारण लनामिविवि एवं का¨सदसंविवि सहित सभी स्कूल-कॉलेज नहीं खुल पाए। डीएम डॉ. चंद्रशेखर ¨सह ने भी साप्ताहिक समीक्षा बैठक को रद करने की घोषणा कर दी।

दरभंगा-समस्तीपुर, दरभंगा-सीतामढ़ी, दरभंगा-सकरी, सकरी-हरनगर रेलखंड पर लगभग साढ़े तीन घंटे तक ट्रेनों का परिचालन ठप रहा। प्रदर्शनकारियों ने जगह-जगह रेल ट्रैक को जाम कर दिया। दरभंगा स्टेशन पर दिल्ली जाने वाली बिहार संपर्क क्रांति ट्रेन को करीब 50 मिनट तक रोके रखा। काफी मशक्कत बाद आरपीएफ इंस्पेक्टर विनोद विश्वकर्मा, सब इंस्पेक्टर जवाहर लाल आदि ने ट्रेन को रवाना करने में कामयाब रहे। आगे हायाघाट स्टेशन पर रेलखंड को जाम कर दिया गया। इसके बाद बिहार संपर्क क्रांति ट्रेन 11.47 बजे तक लहेरियासराय स्टेशन पर रुकी रही। इससे पूर्व कमला गंगा इंटरसिटी एक्सप्रेस को काफी देर तक लहेरियासराय स्टेशन पर बंद समर्थकों ने रोके रखा। उसके रवाना होने के बाद 11.47 बजे तक किस ट्रेन का परिचालन नहीं हो सका। इसके बाद जाकर सभी ट्रेनों को बारी-बारी से पास कराया गया। हायाघाट, लहेरियासराय, दरभंगा, काकरघाटी, सकरी, कमतौल, जोगियारा आदि स्टेशनों पर ट्रेनें घंटों रुकी रही। दरभंगा स्टेशन पर शहीद एक्सप्रेस, पैसेंजर ट्रेन 55514 रुकी रही। इधर, सरकारी व गैर सरकारी बस स्टैंड में वीरानगी छाई रही। मुख्य सड़क की बात तो दूर किसी को पतली गली से भी नहीं निकलने दिया जा रहा था। जगह-जगह पर कई एंबुलेंस को भी पास कराने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। दरभंगा-मुजफ्फरपुर फोरलेन को बिठौली, सिमरी, मब्बी सहित कई जगहों पर जाम कर वाहनों के परिचालन रोक दिया। वहीं दरभंगा-मधुबनी, दरभंगा-समस्तीपुर, दरभंगा-बहेड़ी-कुशेश्वरस्थान, दोनार-बिरौल आदि मुख्य सड़कों पर जगह-जगह महागठबंधन के कार्यकर्ताओं ने बांस-बल्ला से सड़क को जाम कर दिया। शहर के तीनों मुख्य मार्गों पर परिचालन दिन के 3 बजे तक ठप रहा।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष सीताराम चौधरी, राजद के वरीय नेता व पूर्व मंत्री अली अशरफ फातमी, विधायक ललित यादव सहित भारत बंद का समर्थन कर रहे विभिन्न दलों के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने झंडा लेकर सड़कों एवं चौक-चौराहों को जामकर व टायर जलाकर प्रदर्शन किया। शहर के लहेरियासराय, लोहिया चौक, कर्पूरी चौक, बेंता, बलभद्रपुर मोड़, चट्टी चौक, शास्त्री चौक, आयकर चौराहा, मिर्जापुर, भोगेंद्र झा चौक, हराही तालाब, करमगंज, खान चौक, नाका नंबर पांच आदि जगहों पर बंद समर्थक प्रदर्शन कर पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में हुई वृद्धि को कम करने की मांग की।

Posted By: Jagran