दरभंगा। हाईकोर्ट ने अमानक जांच घरों पर कार्रवाई के निर्देश दिए। दैनिक जागरण ने लगातार दस दिनों तक जिले में संचालित अमानक पैथोलॉजी सेंटरों के गोरखधंधे के खिलाफ अभियान चलाया। बुधवार को दरभंगा के बेंता चौक, हॉस्पीटल रोड, बंगाली टोली सहित कई जगहों पर इसका असर देखने को मिला। अमानक पाए गए 27 पैथोलॉजी में से 20 को बंद कर दिया गया है। बचे 7 पैथोलॉजी सेंटर के संचालक अन्य पैथोलॉजी को सील होता देख मशीनों के साथ फरार हो गए। अपने बोर्ड को खोलकर हटा लिया। जिससे एक- दो की पहचान नहीं हो सकी है। मालूम हो कि हाईकोर्ट ने जिले में संचालित 234 पैथोलॉजी को बंद करने का आदेश जारी किया था। जिसको लेकर पिछले कई दिनों से अमानक जांचघरों पर छापेमारी की जा रही थी। अमानक लैबों के आंकड़े जुटाने के बाद सिविल सर्जन कार्यालय ने इन्हें सील करने की दिशा में जिला प्रशासन को लिखा था। सुबह 10 बजे से ही सदर एसडीओ राकेश कुमार व डीएसपी अनोज कुमार के नेतृत्व में गठित विशेष टीम सक्रिय हो गई। नगर क्षेत्र के 27 अमानक पैथोलॉजी सेंटरों में से 20 को 24 घंटे के अंदर सील कर दिया गया। बताते हैं कि सदर अनुमंडल क्षेत्र में कुल 37 पैथोलॉजी को मापदंड के विपरीत पाया गया है। इन सभी जांचघरों को 24 घंटे के अंदर सील किया जाना है।

बताते हैं कि सदर एसडीओ एवं डीएसपी के नेतृत्व में 12 मजिस्टेटों की टीम गठित की गई थी। टीम में बीडीओ बहादुरपुर आनंद प्रकाश, सीओ कमलेश कुमार, सदर बीडीओ रवि सिन्हा, सदर एवं बहादुरपुर के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, बहेड़ी, सदर, शहर, हनुमाननगर एवं बहादुरपुर के प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी, लहेरियासराय एवं बेता थानाध्यक्ष बेंता शामिल थे।

इन पैथोलॉजी सेंटरों पर गिरी है गाज - तरुण डॉयग्नोस्टिक सेंटर, शिवपैथो लैब एवं आर बॉयोकेमिकल्स लैब (सभी लहेरियासराय), धनुष डॉयग्नोस्टिक सेंटर, संगम लैब, विलियम लैब, भारतीय डॉयग्नोस्टिक सेंटर, साईं पैथोलैब, दरभंगा पैथोलैब, नाइस डॉयग्नोस्टिक सेंटर, डॉयग्नोस्टिक लैब,बॉयोकेम डॉयग्नोस्टिक सेंटर, फैमली केयर सेंटर, रौशन पैथो क्लीनिक, एसके पैथो, श्रीराम पैथो क्लीनिक, आरएक्स डॉयग्नोस्टिक एवं नैंसी डॉयग्नोस्टिक(सभी बेंता), मैन्स केयर डॉयग्नोस्टिक, अल्ट्रा डॉयग्नोस्टिक, प्रगति डॉयग्नोस्टिक, शंकर पैथो लैब, किशोर वार्ड केमिकल लैब, मैट्रो लैब, ज्योति पैथो क्लीनिक, लाल मेमोरियल जांच घर, एएन डॉयग्नोस्टिक सेंटर (सभी हॉस्पिटल रोड)।

Posted By: Jagran