दरभंगा। बीएमपी उत्तरी क्षेत्र के डीआइजी क्षत्रनील सिंह ने बुधवार को दरभंगा बीएमपी 13 का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। निरीक्षण दौरान उन्होंने पुलिस सभा कर जवानों के संसाधनों व कार्यकलापों का हाल जाना। साथ ही जवानों की समस्याओं से अवगत हुए। सारी समस्याओं को सुनने के बाद उन्होंने कमांडेंट स्तर से प्रस्ताव बनाकर भेजने को कहा। इसमें बैरक की कमी, कॉमन वाहिनी कक्ष, जन निकासी की समस्या प्रमुख रूप से सामना आया। इसके निदान को लेकर उन्होंने यथासंभव प्रयास करने का आश्वासन दिया। देर शाम तक के निरीक्षण में उन्होंने हथियारों का भी जायजा लिया। इस दौरान वर्ष 2013 में हथियारों के गायब होने से संबंधित दर्ज की गई प्राथमिकी मामले में कुछ रजिस्टर निरीक्षण दौरान नहीं पाए जाने पर डीआइजी सिंह ने नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने डीएसपी संतोष कुमार को दो माह के अंदर पूरा अभिलेख संधारण करने का निर्देश दिया। एकाउंट से संबंधित उन्होंने काफी देर तक विभिन्न अभिलेखों की जांच की। हालांकि, इसमें सब कुछ सही पाया गया। वाहनों के रखरखाव और वस्तुस्थिति से भी वे अवगत हुए। कई वाहनों के इंजन को चालू कर देखा गया तो कई चलाकर। इसके अतिरिक्त विभिन्न अभिलेखों की जांच में कई त्रृटियां पाई गई। इसे सुधार करने को कहा गया। बताया कि हेड क्वार्टर के आदेशानुसार यह रूटिग निरीक्षण था। साथ री कहा कि वे यहां अपने अधिकारियों और जवानों से मिलकर उनकी समस्याओं का निदान करने और उनका उत्साहवर्धन करने पहुंचे हैं। साथ ही संबंधित अधिकारियों और जवानों कई तरह की हिदायत दी गई है। यहां के समस्याओं को सुनने और जानने के बाद निराकरण करने के दिशा में उन्होंने पहल करने की बात कही। मौके पर कमांडेंट अश्वनी कुमार सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

---------------------------------------

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस