दरभंगा। जिला पदाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम ने कार्यपालक अभियंता, पीएचईडी को नगर जलापू‌िर्त्त पाइप लाइन में लीकेज को तुरंत ठीक कराने का निर्देश दिया है। कहा कि वार्ड नंबर 14 में वाटर पाइप लाइन में सबसे ज्यादा लीकेज होने की शिकायतें प्राप्त हो रही है, जिसे तुरंत ठीक कराने की आवश्यकता है। उन्होंने यह निर्देश अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में बुधवार को जल संकट प्रबंधन विषय पर आयोजित बैठक के दौरान दी। बैठक में उपस्थित नगर विधायक संजय सरावगी ने दरभंगा नगर क्षेत्र के कई वार्डों में वाटर पाइप लाइन में लीकेज होने के चलते घरों में पीने का गंदा पानी पहुंचने की ओर डीएम का ध्यान आकृष्ट कराया। बताया कि लीकेज के कारण लोग दूषित पानी पीने को मजबूर हैं, जिसके कारण लोगों को आगे गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्या हो सकती है। बताया कि कई वार्डों में वाटर पाइप में लिक मिसिग होने की सूचना प्राप्त हो रही है। जिलाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता पीएचईडी को विधायक के द्वारा बताए गए स्थलों पर तुरंत मरम्मति कार्य कराने का निर्देश दिया। साथ ही उन्हें नल से आपू‌िर्त्त किए जा रहे पानी की गणुवत्ता की भी जांच करा लेने का निर्देश दिया। विधायक ने ठेकेदारों द्वारा उपभोक्ताओं से पैसे लेकर उन्हें अवैध कनेक्शन देने की बात कहीं। इसपर डीएम ने कार्यपालक अभियंता को संबंधित ठेकेदार को चिन्हि्त कर थाने में प्राथमिकी दर्ज करने को कहा। कार्यपालक अभियंता ने बताया कि फेज वन के तहत नगर में जलापू‌िर्त्त का कार्य किर्लोस्कर को आवांटित किया गया था। कंपनी द्वारा एकरारनामा के अनुसार कार्य नही किया गया है। डीएम ने किर्लोस्कर कंपनी को आगे कोई राशि का भुगतान नहीं करने का आदेश दिया। कार्यपालक अभियंता को पानी की कमी के कारण वार्ड 14 व 16 में बोरिग में स्टैड पोस्ट लगाकर पानी की आपू‌िर्त्त कराने को कहा गया। वहीं खराब 87 चापाकलों की शीघ्र मरम्मति कराकर प्रतिवेदन देने का निर्देश दिया गया।

----------------

Posted By: Jagran