दरभंगा। थाना क्षेत्र के सहसपुर पंचायत के मनमा गांव में गुरुवार को रास्ता विवाद को लेकर दो पक्षों के बीच ¨हसक झड़प हुई। इसमें 15 लोग घायल हुए। घायलों में महिला और पुरुष दोनों शामिल हैं। सभी की चिकित्सा जाले रे़फरल अस्पताल में की जा रही है। पुलिस ने दोनों पक्ष के घायलों का बयान दर्ज किया है। थानाध्यक्ष उमेश कुमार ने बताया कि मामले में अग्रेतर कार्रवाई की जा रही है।

जानकारी के अनुसार, मनमा गांव के रामएकबाल ¨सह से बसावट के लिए जयनंदन राम, कपूरचंद राम, किशुन राम ने करीब दो कट्ठा जमीन की रजिस्ट्री कराई। इस जमीन के अगले हिस्से पर श्यामसुंदर राम ने कुछ जमीन की खरीदारी की। जमीन के कागजात के अनुसार, अमीन से पैमाइश कराई गई। अमीन ने जमीन का बंटवारा कर दिया। जमीन मापी के उपरांत श्यामसुंदर राम की जमीन में सड़क की थोड़ी भूमि होने की बात कही गई। सड़क की जमीन को श्याम सुंदर ने फूस की टाटी लगाकर घेरना शुरू किया। दूसरे पक्ष ने इसका विरोध दिया। दोनों पक्ष में गाली गलौज होने लगी। देखते ही देखते दोनों पक्ष के लोग लाठी-डंडा, लोहे की सारिया एवं खंती से एक दूसरे के ऊपर हमला बोल दिया। एक पक्ष के 10 एवं दूसरे पक्ष के 5 लोग घायल हुए। घायलों में एक पक्ष से स्व. जीतन राम के पुत्र कपूरचंद्र राम, कपूरचंद्र राम के पुत्र नंदकिशोर राम, रामदेव राम, रामदेव की पत्नी समुंद्री देवी, कपूरचंद्र राम की पत्नी गीता देवी, विशेश्वर राम का पुत्र जयनंदन राम, विशेश्वर राम की पत्नी लीला देवी, रामदयाल राम का पुत्र शिवचरण राम, शिवचरण की पुत्री प्रीति कुमारी एवं संजिला कुमारी शामिल हैं। जबकि दूसरे पक्ष के परशुराम राम, उसकी पुत्री वीणा कुमारी, पुत्र रामभरोस राम, श्यामसुंदर राम एवं किशुन राम शामिल है। जाले थानाध्यक्ष कुमार ने घटनास्थल पर ग्रामीण चौकीदार को चौकसी बरतने का निर्देश दिया है। इस मामले को लेकर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की बात कही है।

Posted By: Jagran