बक्सर : मंगलवार की रात मुरार थाना क्षेत्र के अहरा डेरा गांव में किसान के घर चोरों ने नकदी समेत लाखों के जेवरात पर हाथ साफ कर दिया। चोरी की घटना के बाद भागते समय एक चोर का मोबाइल गिर गया। गिरा मोबाइल कहीं पुलिस के हाथ नहीं लग जाए यह सोच कर चोर जैसे ही दोबारा घर में घुसा कि घरवालों ने उसे दबोच लिया और जमकर धुनाई करने के बाद उसे पुलिस के हाथों सौंप दिया। पुलिस की पूछताछ में उसके अन्य साथियों का पता चल गया है जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की छापेमारी जारी है।

जानकारी के अनुसार मंगलवार की रात अहरा डेरा गांव निवासी चंद्रमा यादव का परिवार खाना पीना कर घर में सोए थे। रात में तकरीबन 12:00 बजे अचानक बिजली कट जाने के बाद गर्मी से परेशान घर की महिलाएं छत पर चली गई। जबकि चंद्रमा यादव बाहर का मेन गेट बंद कर अपने दालान में सोए थे। इसी बीच मौके की तलाश कर रहे तीन से चार की संख्या में चोरों ने घर की चहारदीवारी फांद कर आंगन में प्रवेश किया और अपने काम में लग गए। चोरों ने एक कमरे में रखे गए तीन ट्राली बैग और तीन अलमीरा को तोड़कर 20 हजार रुपए नकदी समेत लाखों के आभूषण पर हाथ साफ कर दिया। तभी भागने के क्रम में एक चोर का मोबाइल गिर गया, जिसे दोबारा लेने के लिए जैसे ही घर में प्रवेश किया तभी आहट पाकर घर की महिलाएं जग गई और शोर मचाने लगी। तभी घरवालों का शोर सुनकर भाग रहे चोर को परिवार के लोगों ने पकड़ लिया और जमकर धुनाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया। मुरार थानाध्यक्ष रविकांत प्रसाद ने बताया कि गिरफ्तार चोर की पहचान बगेन गोला थाना क्षेत्र के कैथी गांव निवासी स्व. भरत यादव के पुत्र विध्याचल यादव के रूप में की गई है। पूछताछ में उसके अन्य साथियों की पहचान कर ली गई है तथा उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की छापेमारी जारी है। दरअसल चोरी के बाद भाग रहे चोर की मोबाइल गिर जाने के बाद उसे यह आशंका सताने लगी कि गिरा हुआ मोबाइल कहीं पुलिस के हाथ लग गया तब पुलिस उस तक पहुंच जाएगी। इसी सोच के चक्कर में पड़कर रंगे हाथ चोर गिरफ्तार हो गया।

Edited By: Jagran