बक्सर । कस्तूरबा दिवस के अवसर पर गुरुवार को कस्तूरबा आवासीय विद्यालय बड़का राजपुर में छात्राओं के बीच वाद-विवाद एवं निबंध लेखन प्रतियोगिता के अलावा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें शामिल छात्राओं ने बढ़-चढ़कर न सिर्फ अपनी बहुयामी प्रतिभा को प्रदर्शित किया। बल्कि, आसन्न लोकसभा चुनाव में मतदाताओं को अपनी सहभागिता सुनिश्चित कराने के लिए भी प्रेरित किया।

कार्यक्रम का उद्घाटन शिक्षा विभाग के डीजीसी अनुज कुमार, स्कूल संचालक रामप्रवेश राम एवं डॉ.आरके झा द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। इस मौके पर डीजीसी ने कहा कि दियरांचल के बच्चियों में प्रतिभा की कमी नहीं है। यदि इन्हें शिक्षा का उचित वातावरण मिले तो ये इतिहास गढ़ने की क्षमता रखती हैं। वहीं डॉ.आरके झा ने कहा कि विद्यालयों में इस तरह का आयोजन निस्संदेह बालिका शिक्षा के साथ-साथ मतदाता जागरूकता को बढ़ावा देगा। आयोजित कार्यक्रम की शुरुआत छात्राओं द्वारा प्रस्तुत सरस्वती वंदना से हुआ। उसके बाद एकांकी नाटक बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के माध्यम से सुशिक्षित और सुविकसित समाज निर्माण में बच्चियों के महत्व को न सिर्फ प्रतिपादित किया। बल्कि, पारंपरिक नृत्य-संगीत एवं अन्य कार्यक्रमों के जरिए मतदाता जागरूकता का भी संदेश दिया। अंत में विद्यालय प्रबंधन द्वार उत्कृष्ट प्रदर्शन करनेवाली छात्राओं को विभिन्न पुरस्कारों से पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में उमाशंकर दूबे, अखिलेश कुमार सिन्हा, धर्मेंद्र कुमार यादव, दीप्ति दीनानाथ, शंकर यादव, उमाकांत राम, हरेराम पासवान, दिनेश चौधरी, संजय कुमार, ज्योति कुमारी, मीरा देवी सहित अन्य शिक्षिका मौजूद थीं।

Posted By: Jagran