आरा। जिले में तेज हवा के साथ बारिश व ओलावृष्टि से हुई रबी फसलों की क्षति का रिपोर्ट सोमवार तक जमा करने का आदेश जिला कृषि पदाधिकारी संजय नाथ तिवारी ने सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारियों को जारी किया है। निर्धारित तिथि तक फसल क्षति का रिपोर्ट जमा नहीं करने वाले प्रखंड कृषि पदाधिकारियों के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। जिला कृषि पदाधिकारी ने इस संदर्भ में कहा कि राज्य सरकार द्वारा अविलंब फसल क्षति का रिपोर्ट भेजने का आदेश जारी किया गया है। राज्य सरकार के निर्देश के आलोक में सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारी को प्रखंडवार फसल क्षति का रिपोर्ट सोमवार तक हर हाल में उपलब्ध कराने का आदेश जारी किया गया है। रिपोर्ट उपलब्ध नहीं कराने वाले प्रखंड कृषि पदाधिकारी, कृषि समन्वयक एवं किसान सलाहकारों के विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि विगत सप्ताह में रुक रुक कर कई दिनों तक बारिश हुई है, जिससे रबी फसल को काफी क्षति हुई है।इसमें चना, मसूर, खेसारी, तेलहन एवं गेहूं फसल को काफी नुकसान हुआ है। फसल क्षति का रिपोर्ट राज्य सरकार को भेजने के उपरांत इस संदर्भ में जो निर्देश प्राप्त होगा, उस मामले में अग्रेतर करवाई की जाएगी।

----

दलहनी व तेलहनी फसल को 60 से 70 प्रतिशत तक नुकसान

आरा: जिले में तेज हवा के साथ बारिश और ओलावृष्टि से दलहनी व तेलहनी फसल को 60 से 70 प्रतिशत तक नुकसान हुआ है। इसके साथ ही खेतों में खड़े गेहूं की फसल को गिर जाने से भी काफी क्षति हुई है। जिले के कई प्रखंडों में औसतन 32 मिलीमीटर वर्षा पात का रिकॉर्ड दर्ज किया गया है जो रबी फसल के लिए काफी घातक है। कृषकों ने इस संदर्भ में अपना दुखड़ा सुनाया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस