v>बांका [अनिमेष प्रकाश]। शराबबंदी अभियान को लेकर बांका की महिलाओं में जबरदस्त जागरूकता आई है। अब यहां शराब पीकर घर में कोहराम मचाने वाले पतियों की खैर नहीं है। पत्नियां ही ऐसे शराबी पतियों को जेल भिजवा रही हैं। पिछले छह माह में दो दर्जन से अधिक पतियों को जेल भेजा जा चुका है। कई लोगों ने ऐसे मामले देखकर खुुद अपनी आदत सुधारनी शुरू कर दी है। 

 
बांका जिले में झारखंड से शराब तस्करी का खेल जारी है। झारखंड की सीमा से बांका जुड़ा हुआ है। इस कारण पिछले छह माह में शराब से संबंधित 150 से अधिक मामले यहां प्रतिवेदित किए गए हैं। पांच दर्जन से अधिक शराब के कारोबारियों को इस दौरान जेल भेजा जा चुका है।
 
ताजा मामला चांदन थाना क्षेत्र का है। चुन्नू राउत शराब पीकर अक्सर अपनी पत्नी और बच्चे के साथ मारपीट करता था। इससे नाराज पत्नी ने पुलिस से इसकी शिकायत की।
 
चांदन पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए चुन्नू राउत को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। रजौन, बेलहर, अमरपुर व पंजवारा थाना क्षेत्रों में भी महिलाएं शराबी पतियों को जेल भिजवा चुकी हैं।
 
तत्कालीन एसपी राजीव रंजन ने भी बौंसी थाना क्षेत्र के आदिवासियों के बीच महिलाओं के साथ बैठक कर शराब उन्मूलन के खिलाफ जागरूकता लाने का काम किया था। इसका असर महिलाओं पर देखने को मिल रहा है। इस बाबत लोजपा जिलाध्यक्ष बेबी यादव ने बताया कि महिलाओं में जागरूकता के कारण शराबी पतियों की आदत सुधर रही है। 
 
केस स्टडी एक
पंजवारा थाना क्षेत्र में शराब पीकर मारपीट करने पर प्रदीप भगत को उसकी पत्नी ने ही जेल भिजवाया था। जेल से निकलने के बाद पति की आदत में सुधार भी हुआ है। 
केस स्टडी दो 
शंभूगंज थाना क्षेत्र के भरतशीला गांव की दमयंती देवी ने शराबी पति जयशंकर यादव को जेल भिजवाया है। वह अक्सर शराब पीकर घर में हंगामा करता था। 
केस स्टडी तीन
बेलहर थाना क्षेत्र के मथुरा गांव की महिला सोमा देवी ने अपने शराबी पति को जेल भिजवा दिया। वह शराब पीकर गांव-घर में बवाल करता रहता था।
 
महिलाओं की शिकायत पर पुलिस तत्परता से संज्ञान लेती है। दो दर्जन से अधिक शराबी पतियों को जेल भेजा गया है। महिलाओं की तत्परता के कारण घरेलू ङ्क्षहसा में भी कमी आई है। महिलाएं बेहिचक पुलिस का सहारा ले सकती हैं।
- चंदन कुमार कुशवाहा,एसपी, बांका
 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप