Bihar Politics- जागरण टीम, जमुई: केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने बिहार के जमुई जिले के झाझा विधानसभा क्षेत्र से RJD के पूर्व प्रत्याशी रहे राशिद अहमद को रक्षाबंधन के अवसर पर राखी भेजी है। वहीं, जिले के एक डा. परवाज को भी राखी भेजी है। इस राखी के साथ ही रक्षाबंधन का प्यारा शुभकामना संदेश भी अपने भाई को भेजा है। जागरण डाट काम से बात करते हुए राशिद अहमद ने कहा कि वे राजद से आते हैं। भाई-बहन के प्यारे त्योहार पर केंद्रीय मंत्री ने मुझे राखी भेजी है। इसे मैं हृदय से स्वीकार करता हूं। 

साध्वी निरंजन ज्योति का भाई को प्रेम

गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल पेश करते हुऐ केंद्रीय कैबिनेट मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने राखी के साथ-साथ लिफाफे में एक खत भी भेजा है। इस खत में केंद्रीय मंत्री ने लिखा, 'रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएं, स्नेही बंधुवर, जब सम्पूर्ण भारतवर्ष इस समय आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है , तब भाई-बहन के स्नेह के इस पावन पर्व का महत्व और बढ़ जाता है। मां भारती की अपार कृपा आप और आपके परिवार पर सदैव बनी रहे। रक्षा बंधन आपके लिऐ सुख शांति और समृद्धि पूर्ण हो, इन्हीं शुभकामनाओं के साथ आपके लिए, स्नेह सूत्र भेज रही हूं। इसे स्वीकार करते हुऐ मुझपर आप अपना स्नेह बनाए रखें। इस आशा और विश्वास के साथ आपकी बहन, साध्वी निरंजन ज्योति।' बता दें कि केंद्रीय मंत्री की ओर से भेजी गई राखी और पत्र में पते के साथ-साथ राशिद को समाजिक कार्यकर्ता संबोधित किया गया है।

क्या बोले राजद नेता...

इस बाबत राजद के पूर्व प्रत्याशी से जब पूछा गया कि पार्टी के वरीय नेताओं ने इसपर क्या कुछ प्रतिक्रिया दी है। तो उन्होंने कहा कि यह व्यक्तिगत है। हम तीज त्योहार में यदि बीजेपी वालों को कुछ भेजते हैं और वे हमें तो इसे राजनीति से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। बहन साध्वी निरंजन जी का शुक्रिया अदा करता हूं। रिटर्न गिफ्ट में मैं क्या भेजूंगा, ये मैं किसी को नहीं बताना चाहता। राशिद ने बताया कि वे 2005 में राजद की टिकट पर चुनाव लड़े थे।

वहीं, डा. परवाज ने केंद्रीय मंत्री की राखी और पत्र को सार्वजनिक करते हुए उन्हें हृदय से धन्यवाद दिया। इसके साथ ही डाक्टर ने उपहार स्वरूप चांदी की बाटी और चम्मच अपनी बहन साध्वी निरंजन ज्योति को सप्रेम भेंट करने की बात कही है। डा. परवाज ने कहा, 'हिंदी है हम, वतन है हिन्दोस्तां हमारा। जब हुमांयू के कलाई पर राखी बांधी थी और जब रक्षा बंधन की शुरुआत हुई थी, तो आज सही मायनों में आदरणीय बहन साध्वी निरंजन ज्योति केंद्रीय मंत्री (उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री भारत सरकार ) उन्होनें मेरा आभार व्यक्त किया है, मैं अपने बहन के लिए ऋणी हूं। उनको दीर्घायु होने की कामना करता हूं और मैं चाहता हूं की गंगा-जमुनी तहजीब बनी रहे। बरकरार रहे। आप हमारे यहां आएं, हम आपके पास जाएं। यहीं तो हमारी भारत की खूबसूरती है, इस रक्षा बंधन के शुभ अवसर पर अपनी बहना केंद्रीय केबिनेट मंत्री को दिल की गहराइयों से इस भाई का प्यार और आभार व्यक्त करता हूं।

Edited By: Shivam Bajpai