भागलपुर, जेएनएन। स्थायी बाइपास पर वाहन परिचालन के लिए सोमवार की सुबह छह बजे से टोल टैक्स वसूली शुरू हो गया। एनएचआइ ने टोल प्लाजा पर इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (ईटीसी) लगा दी है। इसके अलावा सीसी कैमरे समेत 46 तरह के उपकरण लगाए गए हैं। 

ईटीसी के तहत बने विशेष लेन से गाड़ी लेकर निकल सकेंगे। वाहन के टोल प्लाजा पर पहुंचते ही वहां लगी मशीन कोड स्कैन कर लेगी और चार्ज स्वत: कट जाएगा। पूरा सिस्टम प्रीपेड है। वाहन मालिक अपनी इच्छानुसार रीचार्ज करा सकेंगे। टोल प्लाजा में लाइन में लगने की जरूरत नहीं होगी। इससे जाम की समस्या भी खड़ी नहीं होगी। इधर, टोल प्लाजा का टेंडर दिल्ली की आर्यन एजेंसी को मिला है। फिलहाल छह माह के लिए टोल का टेंडर हुआ है। टैक्स वसूली बढिय़ा होने यह अवधि दो साल तक बढ़ा दी जाएगी। टोल प्लाजा के ठीकेदार के सरकार को हर सप्ताह 6.95 लाख रुपये की दर से भुगतान करना होगा।

किस वाहन को कितना भरना होगा टोल टैक्स 

1. कार, जीप, वैन व लाइट व्हीकल : इन वाहनों को 20 रुपये टोल टैक्स भरना होगा। अप-डाउन में 30 रुपये लगेगा। मासिक 650 रुपये में 50 दिन तक आने-जाने की अनुमति मिलेगी।

2. लाइट कॉमर्शियल, मिनी बस : इन श्रेणी के वाहनों को 30 रुपये देना होगा। अप-डाउन में 45 रुपये देने होंगे। वहीं 1000 रुपये का कूपन लेने पर 15 दिन तक अप-डाउन कर सकते हैं। 

3. बस, ट्रक से लेकर टू एक्सल व्हीकल : इन वाहनों को टोल टैक्स के रूप में 65 रुपये भरना होगा। अप-डाउन की स्थिति में 100 रुपये लगेंगे। 2165 रुपये का कूपन कटाने पर 35 फेरी की छूट मिलेगी। 

4. हैवी वाहनों को 105 रुपये लगेगा, लेकिन अप-डाउन में 160 रुपये। मासिक 3500 रुपये में 55 फेरी लगाने की छूट।

5. कॉमर्शियल थ्री एक्सल व्हीकल को 70 रुपये लगेगा, लेकिन अप-डाउन में 105 रुपये। मासिक 2365 रुपये में 35 फेरी लगाने की छूट।

सोमवार की सुबह छह बजे से वाहनों से टोल टैक्स वसूली शुरू होगी। तैयारी पूर कर ली गई। दोपहिया व तीनपहिया को टोल टैक्स नहीं देना होगा।  -नीतीश कुमार, अभियंता, एनएचआइ।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस