भागलपुर। हम सभी मिलकर अपनी गौरवशाली परंपराओं के प्रति अपनी निष्ठा एवं सहयोग से इस देश की जनतात्रिक प्रणाली को और ठोस एवं मजबूत स्थिति प्रदान करने के लिए तन-मन से सहयोग एवं सहभागिता का दृढ़ संकल्प लें। देश के प्रति समर्पण की भावना ही हमारा राष्ट्रधर्म है। उक्त बातें प्रभारी प्रमंडलीय आयुक्त सह जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने सैंडिस कंपाउंड में झडोत्तोलन करने के बाद कही।

उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता प्राप्ति के उपरांत भारत ने सभी क्षेत्रों में काफी प्रगति की है। विकास की इस अनवरत यात्रा में भागलपुर जिला भी अपनी कर्मठता एवं जागरूक जनसहयोग से गतिमान है। लोक सेवाओं का अधिकार अधिनियम अंतर्गत विभिन्न सेवाओं का लाभ आम जनों को निर्धारित समय-सीमा में उपलब्ध कराया जा रहा है। जिले में अब तक लगभग 89 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं एवं नियत समय-सीमा में कुल 82 लाख से ज्यादा आवेदनों का निष्पादन किया गया हैं। लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम अंतर्गत जिले में अब तक 34,528 आवेदन प्राप्त हुए है, जिसमें नियत समय-सीमा में कुल 33,052 निष्पादित किए जा चुके हैं। अब पंचायत सरकार भवनों में भी पंचायतस्तर पर लोक सेवा केन्द्र पर लोक शिकायत निवारण अधिनियम के तहत आनलाइन आवेदन दिया जा सकता है।

सात निश्चय के तहत जिले के 3090 वाडरें में गली-नाली का पक्कीकरण कराया गया है एवं 3120 वाडरें में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। स्वयं सहायता योजना के तहत वर्त्तमान में कुल 10110 लाभार्थियों को प्रतिमाह आर्थिक लाभ दिया जा रहा है। स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड योजना अंतर्गत 5488 लाभार्थियों को 91 करोड़ 51 लाख रुपये का ऋण डीआरसीसी के माध्यम से स्वीकृत किया जा चुका है एवं कुशल युवा कार्यक्रम योजना अंतर्गत 36194 लाभार्थियों को अब तब प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में अच्छी स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सदर अस्पताल को जिला अस्पताल की श्रेणी में राज्य स्तर पर प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ है। अनुमंडलीय अस्पताल नवगछिया एवं अन्य सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जैसे शाहकुंड, सुलतानगंज, जगदीशपुर, पीरपैंती, गोपालपुर, बिहपुर, रंगरा सराहनीय कार्य के लिए पुरस्कृत किए गए हैं। जिले में सभी मरीजों को निशुल्क एंबुलेंस की व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए सरकार के स्तर से 20 नई अत्याधुनिक जीवन रक्षक संयत्रयुक्त एंबुलेंस उपलब्ध कराई कराई गई है। विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में 41 एम्बुलेंस संचालित है।

स्मार्ट सिटी के माध्यम से शहर में कई योजनाएं क्रियान्वित की जा रही है। वर्तमान में सैंडिस कंपाउड में नेहरू मेमोरियल, ओपेन एयर थियेटर, क्लीवलैंड मेमोरियल, लान टेनिस कोर्ट, वाक-वे, किड्स प्ले एरिया, पार्किंग, केफेटेरिया, स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स, जिम रेनोवेशन एवं नया प्रवेश द्वार जैसे निर्माण कार्य पूर्ण कर लिए गए हैं एवं बास्केटवाल कोर्ट, स्वीमिंग पुल, स्टेशन क्लब और बैंडमिंटन कोर्ट का निर्माण कार्य प्रगति पर है, जिसे शीघ्र पूर्ण करा लिया जाएगा। सैंडिस कंपाउंड से सटे परिसर में ही कला एवं संस्कृति विभाग द्वारा खेल भवन का निर्माण कराया जा रहा है, जो कि इस वर्ष के अंत तक पूर्ण हो जायेगा। इसके पूर्ण हो जाने से स्थानीय खिलाड़ियों को काफी सुविधा होगी। इसके अतिरिक्त टाउन हाल का निर्माण भी इस वर्ष के अंत तक पूर्ण करा लिया जाएगा। नये बनाये जा रहे टाउन हाल में अत्याधुनिक सुविधा के साथ हाल में 1000 लोगों के बैठने की क्षमता होगी। स्मार्ट सिटी परियोजना में स्मार्ट रोड नेटवर्क योजना के तहत भागलपुर शहरी क्षेत्र में लगभग 30 किलोमीटर रोड का निर्माण कराया जाना है, जिसमें से लगभग 10 किलोमीटर लंबाई में नया रोड का निर्माण कराया जाएगा तथा शेष 20 किलोमीटर पुराने रोड का जीर्णोद्धार का कार्य कराया जाना है। साथ ही शहरी क्षेत्रान्तर्गत घटाघर चौक, आदमपुर चौक, बड़ी खंजरपुर, मायागंज अस्पताल, बरारी होते हुए विक्रमशीला पुल तक पहुंचने के लिए नए बाइपास का निर्माण स्मार्ट सिटी परियोजना अंतर्गत प्रारंभ किया गया है, जिससे शहरी क्षेत्र में जाम की समस्या कम होगी।

मुंगेर-मिर्जाचौकी (ग्रीन फील्ड कारिडोर) फोरलेन सड़क निर्माण कार्य चार पैकेजों में किया जाना है। 100 किलोमीटर फोर लेन सड़क का निर्माण तेजी से प्रारंभ कराया गया है। इसके लिए सारी प्रक्रिया को पूर्ण कर लगभग 470 करोड़ मुआवजे का भुगतान भू-स्वामियों को पिछले लगभग एक वर्ष में किया गया है। इसके अतिरिक्त बिहपुर-वीरपुर परियोजना अन्तर्गत कोसी नदी पर एक और नए पुल एवं लगभग 30 किलोमीटर सड़क का निर्माण तेज गति से चल रहा है। गंगा नदी पर सुलतानगंज-अगुवानी घाट के बीच भी पुल एवं एप्रोच रोड का निर्माण अंतिम चरण में है।

जिले में सदभाव एवं शाति का माहौल रहे एवं विधि-व्यवस्था की स्थिति बेहतर बनी रहे इसके लिए पुरा प्रशासन लगातार प्रयत्‍‌नशील है।

Edited By: Jagran