जागरण संवाददाता, खगडिय़ा। बिजली विभाग के जूनियर इंजीनियर रंधीर कुमार सुमन (30) ने पत्नी और सास के व्यवहार से तंग आकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वे पावर ग्रिड खगडिय़ा स्थित सरकारी आवास में रहते थे। घटना बुधवार रात की बताई जा रही है। सूचना पर चित्रगुप्तनगर थानाध्यक्ष संजीव कुमार दलबल के साथ पहुंचे और देर रात ही शव को सदर अस्पताल भेजा। पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजनों को सौंप दिया गया।

रंधीर मूल रूप से बेगूसराय जिले के सिकंदरपुर (पोस्ट : रजौड़ा) के रहने वाले थे। जूनियर इंजीनियर के पिता कैलाश पंडित ने बताया कि उनके बेटे की शादी हिंदू रीति-रिवाज से खगडिय़ा के परमानंदपुर गांव की राधा कृष्णा से हुई थी। बाद के दिनों में पत्नी के आचरण से रंधीर खिन्न रहने लगे। आरोप लगाया गया है कि राधा कृष्णा और उसकी मां एलीजा चक्रवर्ती द्वारा रंधीर पर भारी दबाव बनाया जा रहा था व धमकी दी जा रही थी। इससे तंग आकर इंजीनियर ने खतरनाक फैसला ले लिया और गले में फंदा लगाकर मर गए। इंजीनियर के पिता का कहना है कि शव के पास से मिले सुसाइड नोट में इन सभी बातों का जिक्र है। चित्रगुप्तनगर थानाध्यक्ष संजीव कुमार ने बताया कि मृतक जूनियर इंजीनियर की पत्नी और सास पर केस दर्ज किया गया है। आगे की प्रक्रिया अपनाई जा रही है।

पत्नी के व्यवहार से तंग आकर व्यवसायी ने की आत्महत्या

पत्नी के व्यवहार से तंग आकर रेडीमेड कपड़ा व्यवसायी रोहित सरौगी (30) ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। स्टेशन रोड स्थित मकान से गुरुवार को उनका शव पुलिस ने बरामद किया है। मृतक के भाई सोनू ने बताया कि रोहित की पत्नी कुछ महीने पहले मायके गई थी। रोहित पत्नी के व्यवहार से खिन्न रहा करते थे। वे बुधवार की रात करीब नौ बजे घर आए और खाना खाकर कमरे में सो गए। सुबह वह जब नहीं जगे, तो घर वाले उन्हें उठाने गए। वे अपने कमरे में मृत पाए गए। नगर थानाध्यक्ष रामस्वार्थ पासवान ने बताया कि रात में भी युवक ने पत्नी से मोबाइल पर बातचीत की थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने और गहन जांच के बाद मामला पूरी तरह से स्पष्ट हो सकेगा। पुलिस छानबीन कर रही है।

Edited By: Dilip Kumar Shukla