भागलपुर, जेएनएन। शिक्षा विभाग ने ढाई माह तक हड़ताल पर डटे हजारों शिक्षकों को राहत दी है। हड़ताली शिक्षकों के वेतन भुगतान का रास्ता साफ हो गया है। 11 मई तक शिक्षकों को छुट्टी समायोजित संबंधित आवेदन देने का निर्देश दिया गया है। जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने कहा कि जो शिक्षक हड़ताल में थे, उनके वेतन भुगतान के लिए बाद में आदेश निकाले जाएंगे। हड़ताल से पहले के महीने का बकाया भुगतान 10 दिनों के अंदर कर दिया जाएगा।

शिक्षिकों का एक शिष्टमंडल जिला शिक्षा पदाधिकारी से मिला

बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ सदर के सचिव डॉ. रविशंकर के नेतृत्व में शिक्षिकों का एक शिष्टमंडल जिला शिक्षा पदाधिकारी से मिला। सचिव ने जिला शिक्षा पदाधिकारी से लॉकडाउन में जिले से बाहर फंसे शिक्षकों का योगदान वाट्सएप से करने की मांग की। शिष्टमंडल में सदर उपाध्यक्ष डॉ. संजीव कुमार, डॉ चंदन, कुमार कृष्णा, शालिनी प्रिया सहित कई थे।

चार लाख नियोजित शिक्षकों की हड़ताल समाप्त

बिहार में नियोजित और माध्‍यमिक शिक्षकों की हड़ताल 4 मई को समाप्‍त हो गई है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के साथ माध्‍यमिक शिक्षक संघ की वार्ता के बाद हड़ताल को वापस लेने की घोषणा की गई। इस तरह, बिहार में 78 दिनों से चली आ रही चार लाख नियोजित शिक्षकों की हड़ताल समाप्त हो गई। राज्य सरकार के लिखित आश्वासन पर बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक समन्वय समिति और बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने हड़ताल खत्म करने की घोषणा की थी। शिक्षक 17 फरवरी से हड़ताल पर थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021