भागलपुर [जेएनएन]। एनडीए प्रत्याशी अजय कुमार मंडल के समर्थन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा 11 अप्रैल को हवाई अड्डा मैदान में होगी। प्रधानमंत्री इस सभा में करीब 45 मिनट तक रहेंगे। पीएम की सभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले पहुंच जाएंगे। सीएम मधेपुरा से यहां आएंगे। नीतीश भागलपुर की सभा के बाद कटिहार के बरारी और पूर्णिया लोकसभा क्षेत्र के श्रीनगर में चुनावी भाषण देने चले जाएंगे।

पीएम के मंच पर केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान, उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव, सूबे के राजस्व मंत्री राम नारायण मंडल, भाजपा-जदयू के विधायक और विधान पार्षद सहित संगठन के पदाधिकारी रहेंगे। मंच पर करीब 30 वीआईपी के बैठने की सूची तैयार की गई है। पीएम के सभा मंच पर भागलपुर के एनडीए प्रत्याशी अजय कुमार मंडल और बांका के गिरधारी यादव रहेंगे। पार्टी ने पीएम के कार्यक्रम का संयोजक विधान पार्षद डॉ. दिलीप जायसवाल को बनाया है। डॉ. जायसवाल सभा की सफलता के लिए पिछले दो दिनों से लगातार बैठक कर रहे हैं।

हवाई अड्डे पर उतरेगा पांच हेलीकॉप्टर

हवाई अड्डा मैदान में पीएम के आगमन के पहले सीएम और डिप्टी सीएम का हेलीकॉप्टर उतरेगा। 10.30 बजे तक पीएम का हेलीकॉप्टर आएगा। पीएम के साथ तीन हेलीकॉप्टर रहता है। सभी हेलीकॉप्टर एक दूसरे से सौ फीट की दूरी पर उतरेगा।

एनडीए तैयार करा रहा मंच और पंडाल

एसपीजी की सुरक्षा और देखरेख में प्रधानमंत्री का मंच और पंडाल तैयार हो रहा है। मंच और पंडाल की मजबूती की निगरानी भवन प्रमंडल के अभियंता कर रहे हैं। मंच की लंबाई 41 फीट और चौड़ाई 25 फीट है। इसके अलावा पूरे परिसर में बैरिकेडिंग कराई जा रही है।

पीएम की सभा से पूर्व अभेद्य किले में तब्दील होगा हवाई अड्डा

पीएम नरेंद्र मोदी के चुनावी सभा के एक दिन पूर्व हवाई अड्डा अभेद्द किले के रूप में तब्दील होगा। सभा के पूर्व ही एसपीजी सुरक्षा गार्ड हैलीपैड से लेकर मंच तक का एरिया अपने कब्जे में ले लेंगे। एक दिन पहले से उस क्षेत्र में आम लोगों के प्रवेश पर पूर्णत: पाबंदी लगा दी जाएगी। बिना वैद्य कार्ड के प्रतिबंधित क्षेत्र में किसी भी व्यक्ति को प्रवेश नहीं मिलेगा।

हवाई अड्डे में पीएम की सभा को ले बनेंगे पांच गेट
हवाई अड्डे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा को लेकर पांच नए गेट बनेंगे। उत्तर की तरफ चारदीवारी तोड़कर तीन और पूरब की ओर दो नए गेट बनाए जाएंगे। परिसर में सुलभ प्रवेश के लिए यह व्यवस्था की गई है। सभी गेटों पर जांच के बाद ही लोगों को प्रवेश की अनुमति मिलेगी। भवन प्रमंडल के अभियंता चारदीवारी को तोड़कर गेट बनाएंगे। यह मुख्य प्रवेश द्वार के अलावा होगा। इसमें से एक वीआईपी गेट भी होगा, जिसमें से स्थानीय नेता, प्रत्याशी मंच पर बैठने वाले नेताओं को प्रवेश मिलेगा।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस