जागरण संवाददाता, भागलपुर। राम जन्मभूमि की मुक्ति के लिए नारियों ने लंबी लड़ाई लड़ी थी। लेकिन उन्हें यश प्राप्त नहीं हुआ। उक्त बातें विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने दल्लू बाबू धर्मशाला में आयोजित बैठक में कही। उन्होंने विहिप व अन्य संगठनों से जुड़े कार्यकर्ताओं को श्रीराम जन्मभूमि अभियान व उसके इतिहास के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राम जन्मभूमि को मुक्त कराने के लिए 76 युद्ध हुए। उन्होंने दो युद्ध की चर्चा करते हुए कहा कि महारानी राजकुंवर की चर्चा करते हुए कहा कि उन्होंने राम जन्मभूमि की मुक्ति के लिए नारियों की सेना लेकर युद्ध किया। सारी वीरांगनाए वीरगति को प्राप्त हुई। उन्हें यश की प्राप्ति नहीं हुई।  गुरु गोविंद सिंह महाराज ने भी निहंगों की सेना लेकर श्रीराम जन्मभूमि को मुक्त कराने का प्रयास किया था। कार्यक्रम की शुरूआत दिल्ली के बजरंग दल सदस्य रिंकू शर्मा (विगत दिनों जिनकी हत्या कर दी गई थी) की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की गई। उन्हें दो मिनट का मौन रख श्रद्धांजलि दी गई।

दो सत्रों में हुई बैठक

विहिप की बैठक मंगलवार को दो सत्रों में हुई। पहले सत्र में प्रांत संगठन मंत्री चितरंजन ने विगत कार्यों की समीक्षा एवं आगामी कार्यों की योजना पर विस्तार से चर्चा की। बैठक में दल्लू बाबू धर्मशाला न्यास की ओर से वरिष्ठ समाजसेवी लक्ष्मीनारायण डोकानिया एवं पदम जैन ने विहिप के अंतरराष्ट्रीय महामंत्री को अंगवस्त्र देकर स्वागत किया। साथ ही न्यास की ओर से निधि समर्पण का चेक भी समर्पित किया। बैठक का संचालन विभाग मंत्री पारस शर्मा कर रहे थे। केंद्रीय न्यासी हंसराज जैन ने भी बैठक को संबोधित किया।

महिलाओं के साथ की बैठक

विहिप के अंतरराष्ट्रीय महामंत्री विश्व हिंदू परिषद की महिला इकाई मातृशक्ति व दुर्गा वाहिनी की बहनों के साथ बैठक की। बैठक में बड़ी संख्या में मातृशक्ति की बहनों ने भाग लिया। बैठक में लोदीपुर पंचायत में चलने वाले सिलाई सेंटर में प्रशिक्षित बहनों को प्रमाणपत्र भी दिया गया। दो दिवसीय कार्यक्रम में कई राम भक्तों ने सामूहिक रूप से उनके समक्ष अपना समर्पण भी अॢपत किया। बैठक के अंत में विभाग मंत्री पारस शर्मा ने कई दायित्वों की घोषणा की। अंत में सहभोज का आयोजन किया गया।

बैठक में थे मौजूद

बैठक में मुख्य रूप से प्रांत बजरंग दल संयोजक रजनीश कुमार, मातृशक्ति महानगर संयोजिका मोनिका महेशका, सह संयोजिका मनीषा केसान, भागलपुर जिला मंत्री मनीष साह, बांका जिला सहमंत्री विकास कुमार, महानगर उपाध्यक्ष संतोष सिसोदिया एवं वीरेंद्र कुमार, विभाग सम्पर्क प्रमुख राकेश सिन्हा, महानगर मंत्री सुमित जिलोका, महानगर कोषाध्यक्ष अंकित सर्राफ, महानगर बजरंग दल सहसंयोजक करण यादव एवं रोहित रजक के अलावा भागलपुर और बांका जिला के जिला एवं प्रखंड के कई पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया। वहीं, राम मंदिर निर्माण के लिए घर-घर जाकर धनसंग्रह किया जा रहा है।

Edited By: Dilip Kumar shukla