संवाद सहयोगी, किशनगंज। Police Commemoration Day: कर्तव्य पथ पर अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धासुमन अर्पित करने के उद्देश्य से पुलिस लाइन में पुलिस संस्मरण दिवस का आयोजन किया गया। एसपी कुमार आशीष के नेतृत्व में पुलिस पदाधिकारी और कर्मियों ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी और उनके शहादत को याद किया। इस मौके पर एसपी ने कहा कि विगत वर्ष 2020-2021 में बिहार पुलिस के कुल 35 पुलिस पदाधिकारी और कर्मियों ने ड्यूटी के दौरान अपने प्राणों की आहुति दे दी है।

उन्होंने कहा कि इनमें से सात पुलिस पदाधिकारी और कर्मी ने कर्तव्य के निष्पादन के दौरान अपने प्राण न्योछावर कर दिये। जबकि 28 पुलिसकर्मी कोरोना काल में डयूटी के दौरान संक्रमित होकर हमेशा के लिए हमसे दूर चले गए। एसपी ने कहा कि इनमें से एक शहीद तत्कालीन थानाध्यक्ष अश्विनी कुमार भी थे। इन्होंने अपने कर्तव्य का पालन करने के दौरान बंगाल के पांतापाड़ा में अपने प्राण न्योछावर किया था। उनकी शहादत को कभी भुलाया नहीं जा सकता। एसपी ने कहा कि ऐसे जांबांज पुलिस पदाधिकारी का बलिदान सदैव याद रखा जाएगा।

इस मौके पर एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी, मुख्यालय डीएसपी अजीत प्रताप सिंह चौहान, सर्किल इंस्पेक्टर श्याम किशोर यादव, टाउन थानाध्यक्ष सतीश कुमार हिमांशु सहित कई अन्य पुलिस पदाधिकारी और जवान मौजूद रहे।

टाउन थाना में शहीद अश्विनी कुमार की शहादत को किया गया याद

संस्मरण दिवस के पर टाउन थाना में सादे समारोह के दौरान शहीद तत्कालीन थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार को श्रद्धांजली दी गई। एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी के नेतृत्व में टाउन थाना में तैनात पुलिस पदाधिकारियों और कर्मियों ने दो मिनट का मौन रख कर अश्विनी कुमार की शहादत को याद किया। इस दौरान कई पुलिसकर्मियों की आंखें डबडबा गई थी।

एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी ने कहा कि अश्विनी कुमार के बलिदान को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता है। अपराध मुक्त किशनगंज के सपने को साकार करने के लिए उन्होंने अपने प्राण न्योछावर कर दिये। हमें उनकी कार्यप्रणाली से सीख लेने की जरूरत है। इस मौके पर मुख्यालय डीएसपी अजीत प्रताप ङ्क्षसह चौहान, टाउन थानाध्यक्ष सतीश कुमार हिमांशु, यातायात निरीक्षक विनय कुमार, एस आई नवीन कुमार, चितरंजन प्रसाद यादव, सुबोध कुमार, अंजनी कुमार, रामलाल भारती सहित टाउन थाना में तैनात सभी पुलिस कर्मी मौजूद रहे।

Edited By: Shivam Bajpai