भागलपुर । सूबे के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि राज्य सरकार बाढ़ और सुखाड़ मद में 24 सौ करोड़ रुपये खर्च कर रही है। बाढ़ पीड़ितों को छह हजार रुपये दिए जा रहे हैं। सूखा प्रभावित क्षेत्र में प्रति परिवार तीन हजार रुपये की सहायता दी जा रही है। भागलपुर में विक्रमशिला सेतु के बगल में बनने वाले फोर लेन पुल के लिए 1726 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं। इसका शीघ्र टेंडर होगा और काम जल्द शुरू किया जाएगा।

मोदी बुधवार को एक स्थानीय होटल में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 15 साल तक राज करने वाले राजद नेताओं ने भागलपुर और बिहार के विकास के लिए क्या काम किया, इसका जवाब देना चाहिए। वर्तमान सरकार ने भागलपुर के विकास के लिए कई योजनाओं की स्वीकृति दी है। बिहार में हो रहे उपचुनाव में सभी सीटों पर एनडीए की जीत होगी।

मोदी ने कहा कि महागठबंधन में बिखराव दिख रहा है। एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। बिहार सहित महाराष्ट्र और हरियाणा में हो रहे चुनाव में भाजपा और उसके सहयोगी दलों के पक्ष में माहौल है। उन्होंने कहा कि सुल्तानगंज-अगुवानी घाट पुल के निर्माण में तेजी से काम चल रहा है। कहलगाव के अंतीचक में बहु ग्रामीण जलापूर्ति योजना का काम अंतिम चरण में है। ट्रिपल आइटी के निर्माण का काम प्रारंभ हो गया है। 2017 के बाढ़ का जिक्र करते हुए कहा कि उस वक्त 38 लाख परिवारों को सरकारी सहायता दी गई थी, जिस पर राज्य सरकार के खजाने से 2290 करोड़ रुपए खर्च हुए थे। अभी बाढ़ और सुखाड़ मद में 2400 सौ करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गई है। 900 करोड़ रुपए सूखा प्रभावित क्षेत्रों के लिए है। राहत और बचाव कार्य के लिए केंद्र सरकार ने 613 करोड़ रुपये निर्गत किए हैं। केंद्र से और भी राशि मिलेगी। अब तक 22717 परिवारों को छह हजार की सहायता राशि दी गई है। उन्होंने कहा कि डेंगू और चिकनगुनिया के मरीजों को उपचार में कोई परेशानी नहीं हो रही है। अस्पतालों में व्यवस्था ठीक है। मौके पर विधान पार्षद एनके यादव, जिला अध्यक्ष रोहित पाडेय, जिला परिषद के अध्यक्ष टुनटुन साह और लोकसभा प्रभारी कुमार प्रणय थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप