भागलपुर, जेएनएन। जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल (जेएलएनएमसीएच) में गुरुवार रात करीब आठ बजे कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो गई। अस्पताल में कोराना से मौत का यह पहला मामला है। इससे पहले जगदीशपुर निवासी एक प्रवासी मजदूर की कोरोना से मौत हो चुकी है। पर वह अस्पताल नहीं पहुंच सका था।

इधर, अस्पताल अधीक्षक अशोक भगत ने बताया कि अधेड़ को 30 जून को डॉ. एके राय की यूनिट में भर्ती किया गया था। वह अस्पताल परिसर के बाहर गिरा हुआ था। किसी ने उसे इमरजेंसी में भर्ती करवाया। उसकी उम्र करीब 55 वर्ष है। उसके पैर में जख्म था। 30 जून को ही कोरोना जांच के लिए सैंपल लिया गया था। गुरुवार को जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। बीएचटी में मरीज का नाम, पता अंकित नहीं है। बताया गया कि वह बोल नहीं पा रहा था। पैर में जख्म था इसलिए उसकी ड्रेसिंग की जा रही थी।

पहले उसका इलाज इमरजेंसी में  फर्श पर किया जा रहा था। कोरोना पॉजिटिव आने पर उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। अस्पताल अधीक्षक ने कहा कि स्वास्थ्य कर्मचारियों की भी सैंपलिंग की जाएगी। विभिन्न विभागों को भी सैनिटाइज कराया जाएगा।

नवगछिया में 13 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित

नवगछिया में गुरुवार को 21 लोगों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। इनमें 13 आदर्श थाना नवगछिया के पुलिस पदाधिकारी और जवान समेत इनके परिवारवाले हैं। चार कोरोना मरीज मुमताज मुहल्ला और चार नवगछिया बाजार के हैं। इन सभी को भागलपुर में आइसोलेट किया गया है। इससे पूर्व भी नवगछिया थाना के 16 पुलिस पदाधिकारी और जवान कोरोना से संक्रमित हुए थे, जिसके ही बाकी लोगों को सैंपल लेकर जांच में भेजा गया था। कोरोना संक्रमण के कारण आदर्श थाना नवगछिया, एसटीएससी थाना, महिला थाना को सील कर दिया गया है। तीनों थाना एक ही परिसर में है। नए पुलिस लाइन भवन में नवगछिया थाना को शिफ्ट किया गया है।

खरीक में दवा दुकानदार समेत नौ कोरोना पॉजिटिव

खरीक में गुरुवार को फिर से नौ लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें खरीक बाजार का एक दवा दुकानदार, उसका भाई, पत्नी और बेटी के अलावा तुलसीपुर के एक वृद्ध, ध्रुबगंज पंचायत की एक महिला समेत खरीक बाजार पंचायत के तीन युवक शामिल हैं। यह जानकारी डॉ नीरज कुमार ङ्क्षसह एवं डॉ संत कुमार निराला ने दी।

सन्हौला प्रखंड कार्यालय के दो कर्मी फिर कोरोना संक्रमित मिले

सन्हौला प्रखंड कार्यालय में पुन: दो कर्मियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि से प्रखंड व अंचल कर्मियों में हड़कंप मच गया है। प्रखंड कार्यालय  के तीन कर्मी दो दिन पूर्व कोरोना संक्रमित मिले थे, जिसके बाद प्रखंड कर्मियों की पुन: जांच की गई तो दो और कर्मी संक्रमित मिले। स्वास्थ्य विभाग द्वारा दोनों को भागलपुर आइसोलेशन में भेज दिया गया है। प्रखंड मुख्यालय में पांच कोरोना संक्रमित मिलने के बावजूद कार्यालय के बाहर सभी दुकानों को खोला जा रहा है। इस जगह प्रतिदिन हाट भी लगती है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस